सोनी न्यूज़
जालौन वीडियोस

जनपद जालौन के मुख्यालय उरई में पड़ी कोरोना की बुरी नजर

जिला अस्पताल के डॉ ही निकले कोरोना से पीड़ित,जाँच में आया पॉजिटिव
जिलाधिकारी ने की पॉजिटिव होने की पुष्टि

उरई/जालौन:यूपी के ७५ जिलों में दम भरने वाले जनपद ने आज अपनी वक्त के आगे अपनी हार मान ली| दरसल विश्वव्यापी महामारी कोरोना ने अपने कदम जनपद में रख दिए है जिसका प्रमाण तब मिला जब जनपद के मुखिया जिलाधिकारी डॉ मन्नान अख्तर ने लखनऊ से आयी रिपोर्ट का हवाला देते हुए अपना बयान जारी किया तो सभी के पैरो के तले से जमीन सरक गयी

कोरोना के लक्षण मिलने पर शुक्रवार को लखनऊ किया गया था रेफर

जालौन- अब तक कोरोना संक्रमण से मुक्त जालौन जनपद में भी इस महामारी की दस्तक शुरू हो गई है। मेडिकल कालेज में तैनात एक चिकित्सक को कोरोना वायरस की प्रेस विज्ञप्ति के माध्यम से जालौन प्रशासन के द्वारा पुष्टि हुई है। यह चिकित्सक जिला अस्पताल में तैनात है। जिसकी ड्यूटी मेडिकल कालेज में लगाई गई थी। बीते शुक्रवार को हालत खराब होने पर उन्हें एम्बुलेंस से जिला अस्पताल लाया गया था। कोरोना के लक्षण मिलने पर केजीएमयू लखनऊ रेफर कर दिया गया था। शनिवार की देर शाम आई टेस्ट रिपोर्ट में चिकित्सक में कोरोना की पुष्टि हुई है। इसके साथ ही जिले में हडक़ंप मच गया। प्राप्त जानकारी के अनुसार उरई के जिला अस्पताल में तैनात एनेस्थीसिया (बेहोशी) के एक चिकित्सक की एक सप्ताह पूर्व उरई के राजकीय मेडिकल कालेज में ड्यूटी लगाई गई थी।

सूत्रों के अनुसार चार दिन पूर्व उन्हें तेज बुखार आया। जिसका उन्होंने प्राथमिक उपचार कराया। पर बीते शुक्रवार को उनकी हालत अधिक बिगड़ गई और बुखार के साथ गले में सूजन की शिकायत हो गयी जो कि कोरोना के लक्षण बताये जाते है । आनन फानन में परिजानो ने उन्हें एम्बुलेंस से जिला अस्पताल के आइसोलेशन वार्ड में ले गए। जहां पर उनका प्राथमिक उपचार करने के बाद उन्हें केजीएमयू लखनऊ रिफर कर दिया गया और उनकी रिपोर्ट का इंतजार होनेलगा | आज शनिवार देर रात्रि जब रिपोर्ट आयी जो कि पॉजिटिव थी |

चिकित्सक में कोरोना के लक्षण मिलते ही स्वास्थ्य महकमे में हडक़ंप मच गया था। यह खबर जैसे ही जिले में आई तो प्रशासन से लेकर आम जनता तक में हडक़ंप मच गया।एहितयात के तौर पर चिकित्सक के कोरेाना पॉजिटिव मिलने से उनके साथी चिकित्सक व अन्य स्टाफ को क्वारंटीन किया जा रहा है। इसके साथ ही यह भी पता लगाने का प्रयास किया जा रहा है कि चिकित्सक तक कोरोना आखिर कैसे पहुंचा।

परिजन व साथी स्टाफ को भी क्वारंटीन करने की तैयारी हुयी तेज ।

चिकित्सक को कोरोना पॉजिटिव मिलने के बाद प्रशासन ने तेजी दिखते हुए उनके परिवार के सभी सदस्यों के साथ ही मेडिकल कॉलेज के साथी स्टाफ को भी क्वारंटीन करने का काम शुरू क़र दिया है । साथ ही उच्चाधिकारियों ने अपने अधीनस्थों को व्यापक दिशा निर्देश जारी कर दिए हैं कि यह भी पता लगाया जाये कि पिछले एक सप्ताह के दौरान उक्त कोरोना पॉजिटिव चिकित्सक किस किस से मिले थे । उन सभी को चिन्हित क़र लोगों की पहचान करके उन्हें भी क्वारंटीन किया जाये । ।

लोगो कि घबराहट
चिकित्सक के कोरोना पॉजिटिव मिल जाने से जिले में बड़ी संख्या में कोरेाना पॉजिटिव मरीज मिलने की आशंका लगयी जा रही है। जिससे लोगो में घबराहट बढ़ रही है

कुछ दिन से गर्म चल रहा था अफवाहों का बाजार

पिछले कुछ दिनों से कोरोना संक्रमित कि खबरे जनपद में वायरल हो रही थी जिससे जनपद का प्रसाशन परेशान चल रहा था और बचीकुची कसर लखनऊ से आयी रिपोर्ट ने कर दी जिसके अनुसार जनपद को असंतोष के श्रेणी में रखा गया था| जिसका स्पष्टीकरण आनन् फानन में प्रेसवार्ता रख कर मीडिया को दिया गया

जब दिल ही टूट गया

इस कोरोना ने बहुत कुछ न कहते हुए बहुत कुछ कह दिया दरसल कोरोना के चलते मीडिया के द्वारा लगातार चलाई जा रही खबरों से जिला प्रसाशन के नक् में दम हो चाला था और इसी के चलते शनिवार दोपहर जिलाधिकारी ने अपना बयान जारी किया था कि अगर कोई कोरोना से सम्बंधित अफवाह फैलता है तो उसके खिलाफ कड़ी कार्यवाही कि जाएगी|ठीक आठ घंटे बाद लखनऊ कि रिपोर्ट ने सबको निशब्द कर दिया और फिर जिलाधिकारी ने अपना बयान जारी क़र पॉजिटिव होने की पुष्टि क़र दी |

उठाने पड़ेगे अब ये कदम

अब ऐसे हालत में प्रशासन को बहुत ऐहतियात की जरुरत है कि उन सभी लोगों की पहचान की जाए जो मेडिकल कालेज में तैनाती के दौरान सम्पर्क में आये थे

विशेष रिपोर्ट: अजय सोनी (चीफ एडीटर ) सोनी न्यूज़

Content Protection by DMCA.com

ये भी पढ़ें :

विश्व मानवाधिकार परिषद के राष्ट्रीय अध्यक्ष को ब्राजील एवं अरब की संस्थाओं ने डॉक्टर की मानद उपाधि किया सम्मानित

AMIT KUMAR

Lucknow-VVIP इलाके बापू भवन चौराहे पर एक पुलिसकर्मी लातों से टैक्सी वालों को मारता

Ajay Swarnkar

कालपी-दोहरे हत्याकांड से थर्राया शहर।

Ajay Swarnkar

अपना कमेंट दें

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.