सोनी न्यूज़
उत्तर प्रदेश वीडियोस

उरई-1500रू में बेचे जा रहे पानी टैंकर प्रशासन है मौन

उरई(जालौन)-उरई शहर के लहरियापुरवा मुहल्लावासियों ने पानी की समस्या को लेकर जिलाधिकारी को ज्ञापन दिया।वही मुहल्लावासियों का कहना है कि इसके मुहल्ले में रोजाना पानी टैंकर आया करता था राहुल नाम का लड़का लाता था।मगर अब 1500रू की माँग की गई महीने भर पानी लाने की।वही रेखा श्रीवास्तव द्वारा राहुल को 500रू दिये गये।और कहा गया कि इससे ज्यादा रुपये हम नही दे सकेगे।राहुल को पूरे 1500 न मिलने पर उसने पानी का टैंकर लाने से माना कर दिया।और राहुल ने फोन से कहा कि पानी का टैंकर अब नही आएगा।तो रेखा श्रीवास्तव ने दिए हुए पैसे माँगे तो गाली गलौज पर उतर आया।और कहने लगा कि हम राजपूत लोधी है।पैसा लेकर किसी साले को वापिस करने की आदत नहीं है।और राहुल ने कहा जहाँ जाना हो चले जाओ मैं किसी से नही डरता।वही कल पानी का टैंकर न आने की बजह से गफ्फार बाबू को फोन किया तो उन्होंने पानी की टंकी भेजने के लिए मना कर दिया गया और कहा गया कि किसी से भी शिकायत कर दीजिए।हम सब देख लेंगे।और अब पानी टंकी नही आएगी।वही मुहल्लावासियों से गफ्फार बाबू द्वारा कहा गया कि पानी टंकी के लिए राहुल से कहे पानी टंकी का काम राहुल करता है।मुझसे अब बात मत करना। तुझे जो करना है कर लेना।वही मुहल्लावासी पानी की बूंद-बूंद के लिए तरस रहे हैं।
और मुहल्ले में न कोई हैडपंप है और हैं भी तो वह सालो से खराब पड़े हैं। जो है
ज्ञापन देते समय-रेखा श्रीवास्तव,राशि,अंगूरी,करीन, सितारा, रिजवाना, मदीना,फैमीदा,अनवर खा,अनवर शाह, नाज़िम खान,आसिफ खान,अक़ीदा,रिहाना,साबिर, रूबी, परवीन,नाजो,छोटू, रामराजा यादव,गुलफ्शा, मैना* आदि समस्त मुहल्लावासी मौजूद रहे।

खास बात-लोग पानी की बूंद-बूंद के लिए इधर उधर भटक रहे हैं।वही कुछ भ्रष्ट लोगो पर कुछ भ्रष्ट अधिकारियों का सहयोग होने से वह अपनी मन मानी से पानी टैंकर बेंच रहे हैं।इस प्रकरण को गम्भीरता से लेते हुए।इस प्रकरण में शामिल हो उनकी जाँच कर उनके खिलाफ सख्त कार्यवाही की जाये।
soni news के लिये जनपद जालौन से अमित कुमार क्राइम रिपोर्टर के साथ रंजीत सिंह

ये भी पढ़ें :

धर्म गुरुओं ने व मुस्लिम समाज के लोगों को दिया संदेश,घरों में अदा की गई जुमे की नमाज

ashish knp

मूर्तियों को वरामद करने वाली पुलिस टीम को सम्मानित किया गया |

Ajay Swarnkar

चोरों का साथ चोरों का विकास पत्रकारों से हुई अभद्रता

Ajay Swarnkar

अपना कमेंट दें

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.