सोनी न्यूज़
Other उत्तर प्रदेश

द्वितीयस्तर संस्कृत भाषा शिक्षण कार्यशाला का सफलतापूर्वक हुआ समापन-अमित सामवेदी

उत्तर प्रदेश संस्कृत संस्थान लखनऊ द्वारा आयोजित 20 दिवसीय संस्कृत भाषा शिक्षण कार्यशाला का समापन आज 19/11/2021 को सफलतापूर्वक हुआ।
आपको ज्ञात हो कि उत्तर प्रदेश संस्कृत संस्थान लखनऊ(भाषा विभाग उत्तर प्रदेश शासन)के अधीन एक स्वायत्तशासी संस्था है।
जिसके माध्यम से निरंतर विगत कई वर्षों से संस्कृत भाषा के उत्थान और प्रचार -प्रसार के लिए प्रयास किए जा रहे हैं।
सूबे के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के ड्रीम प्रोजेक्ट के तहत देव भाषा संस्कृत का विकास और प्रचार – प्रसार के लिए संस्कृत संस्थान कटिबद्ध है और संस्थान के अध्यक्ष डॉ. वाचस्पति मिश्र के कुशल नेतृत्व में वर्तमान समय में सम्पूर्ण भारतवर्ष के साथ -साथ विदेशी संस्कृत अनुरागियों को नि:शुल्क २०दिवसीय सरल संस्कृत भाषा शिक्षण का ज्ञान प्रदान कर सुसंस्कृत करने का कार्य किया जा रहा है।
इसी क्रम संस्थान के प्रशिक्षक अमित कुमार तिवारी (सामवेदी) द्वारा समाजिक जन,प्रोफेसर्स , सेवानिवृत्त कर्मचारियों और छात्रों आदि को २०दिवसीय प्रथम एवं द्वितीय स्तरीय प्रशिक्षण प्रदान किया गया जिसमें सभी संस्कृत प्रेमियों ने शिष्टाचार,प्रतिदिन बोले जाने शब्दों,विभक्तियों,प्रत्ययों सहित व्याकरण और सम्भाषण के नियमों के बारे जानकर कर अपनी संस्कृत भाषा की क्षमता के साथ -साथ स्वयं का भी विकास किया ध्यातव्य रहे कि उत्तर प्रदेश संस्कृत संस्थान 20 दिवसीय नि:शुल्क प्रशिक्षण के साथ -साथ प्रमाण पत्र भी प्रदान करता है।
उक्त समापन सत्र में मुख्यवक्ता के रूप उपस्थित रहे संस्कृत-भारती के अवधप्रान्त के प्रान्त-मन्त्री
डॉ ओंकार नारायण दुबे ने कहा कि संस्कृत पढ़ने से ही हम अपनी संस्कृति को समझ सकते हैं और और हमारे चरित्र का निर्माण तभी होगा।
अतिथि के रूप में संस्कृत-भारती कानपुरप्रान्त महानगरमंत्री श्री मान् नरेन्द्र शास्त्री जी की उपस्थिति रही।
कार्यक्रम का संचालन अमित सामवेदी ने किया।
धन्यवाद ज्ञापन-डॉ अभय नारायण चतुर्वेदी जी ने किया, शान्तिमन्त्र विजयलक्ष्मी जी आंध्रप्रदेश ने किया एवं सभी प्रतिभागियों ने अपने अपने अनुभव के माध्यम से प्रतिभा का प्रदर्शन किया समूचे देश से, डॉ सचिन कुमार पाटिल महाराष्ट्र, लक्ष्मी तेलंगाना,स्मृति,अनसूया जी तमिलनाडु ,जगदीश बल्लभ,अनीता मिश्रा,अर्चना गुप्ता जी ,देवांशु शर्मा,डॉ अशोक भट्टाचार्य पश्चिम बंगाल,शुभम,ऋषिकांत ओझा, शिवम,महेद्र,आशु, जितेंद्र कुमार, रंजीत,ओमप्रकाश गुप्ता आदि अधिक संख्या में लोगों ने गूगल मीट के माध्यम से ऑनलाइन प्रतिभाग किया।

रिपोर्ट-अमित कुमार उरई जनपद जालौन उत्तर प्रदेश।

ये भी पढ़ें :

झाँसी: जिला अधिवक्ता संघ का 2019 निर्वाचन शांति पूर्वक हुआ मतदान !

Ajay Swarnkar

Lucknow-स्वर्णकार जाति सर्वाधिक पिछड़ा वर्ग में समाहित हो : मणिलाल वर्मा 

Ajay Swarnkar

जालौन-उरई में अज्ञात कारणों के चलते माँ-बेटी ने लगाई आग बेटी की मौके पर मौत।

AMIT KUMAR

अपना कमेंट दें

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.