सोनी न्यूज़
उत्तर प्रदेश जालौन

जालौन-कोविड-19 महामारी को देखते हुए पीरो वाली मस्जिद पर नहीं लगेगा मेला

शासन की गाइड लाइन एवं कोरोना के बढ़ते प्रभाव को देख कमेटी ने लिया फैसला

उरई (जालौन)। शहर के मुहल्ला तिलकनगर कबाड़ी मार्केट स्थित पीरों वाली मस्जिद पर हर साल 11वीं शरीफ पर लगने वाला मेला एवं प्रदर्शनी को इस साल कोविड-19 के बढ़ते प्रभाव एवं शासन की गाइड का पालन करते हुए तथा कोरोना के बचाव को देखते हुए अंजुमन गुलामाने गौस-ए-आजम उर्स कमेटी के पदाधिकारियों एवं सदस्यों ने मेला व प्रदर्शनी स्थगित कर दिया गया है। जबकि कोविड-19 पालन करते हुए दरगाह पर मन्नतें मांगने के लिए रोक नहीं रहेगी।
उक्त बात की जानकारी देते हुए अंजुमन गुलामाने गौस-आजाम उर्स कमेटी के मुखिया समाजसेवी यूसुफ अंसारी अलमारी वाले, कमेटी के अध्यक्ष मुहम्मद तौफीक रहमानी के अलावा कमेटी के सदस्य सददाम बरकाती, आसिफ बरकाती,सईद बरकाती, आमिर बरकाती, राजा अंसारी, इकबाल बरकाती, फरीद बरकाती, मुमताज बरकाती, अनीस खान, हाफिज शोएब अंसारी आदि कमेटी के लोगों सामूहिक रूप से निणार्य लिया इस साल कोविड-19 के बढ़ते प्रभाव तथा सरकार की गाइड लाइन को ध्यान में रखते हुए 27 नवम्बर 2020 दिन शुक्रवार को शहर के मुहल्ला तिलकनगर (कबाड़ी मार्केट) पीरो वाली मस्जिद मैदान में मेला एवं प्रदर्शनी का आयोजन नहीं होगा। केवल सोशल डिस्टेसिंग एवं मास्क के साथ ही दरगाह पर मन्नतें एवं चादर तथा इबादत कर सकते है।

 

रिपोर्ट-अमित कुमार जनपद जालौन।

Content Protection by DMCA.com

ये भी पढ़ें :

कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष ने किसानों को निशुल्क मास्क भेजे बितरण के लिए

Ajay Swarnkar

भारतीय शक्ति चेतना पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष संध्या शुक्ला का देश को संबोधन

ashish knp

जालौन-पत्रकारो ने किया जिला प्रशासन के खिलाफ धरना प्रदर्शन।

Ajay Swarnkar

अपना कमेंट दें

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.