जालौन-जिला कार्यक्रम अधिकारी ने आंगनबाड़ी केंद्रों का किया निरीक्षण बंद पाए गए। आंगनवाड़ी केंद्रों की कार्यकत्री के मानदेय सेवा समाप्त करने के दिए निर्देश।

उरई(जालौन)।विभागीय समीक्षा बैठक में जिलाधिकारी महोदय द्वारा दिए गए निर्देशों के क्रम में जिला कार्यक्रम अधिकारी इफ्तिखार अहमद ने विकास खंड कदौरा के ग्राम आटा एवं विकासखंड डकोर के ग्राम रहिया, गिरथान एवं बड़ागांव के आंगनबाड़ी केंद्रों का ताबड़तोड़ किया निरीक्षण बंद पाए गए। आंगनवाड़ी केंद्रों की कार्यकत्री के मानदेय सेवा समाप्त करने के दिए निर्देश।
कन्या प्राथमिक विद्यालय आटा के प्रांगण में दो आंगनबाड़ी केंद्र संचालित पाए गए दोनों कार्यकत्री उपस्थित थी, कार्यकत्री ड्रेस में न होने एवं केंद्र पर कोई बच्चा उपस्थित न होने कारण जिला कार्यक्रम अधिकारी महोदय ने नाराजगी प्रकट करते हुए उक्त कार्यकत्रियों का 1 दिन का वेतन बाधित करते हुए चेतावनी पत्र जारी करने के निर्देश दिए हैं।
कन्या प्राथमिक विद्यालय के समीप विभागीय भवन में संचालित पंचवटी आंगनबाड़ी केंद्र मौके पर बंद पाया गया। आंगनवाड़ी सहायिका सरला देवी ने बताया कि कार्यकत्री श्रीमती उमा देवी इस केंद्र की चाबी अपने पास रखे हुए अपनी मर्जी से खोलती है, केंद्र की स्थिति से स्पष्ट था कि विगत कई दिवस से नही खुला है।
श्रीमती उमा देवी की सेवा समाप्त करने की कार्रवाई करने का निर्देश दिया है विकास खंड डकोर के ग्राम गिरथान के विभागीय भवनों में संचालित दो आंगनवाड़ी केंद्र खुले पाए गए आंगनवाड़ी केंद्र प्रथम की कार्यकत्री श्रीमती जरीना बानो एवं सहायक श्रीमती विमला देवी मौके पर विभागीय ड्रेस में उपस्थिति थी, केंद्र पर बच्चों भी थे तथा ड्राई राशन भी मौके पर पाया गया कार्य किया गया की साफ सफाई का ख्याल रखनें के निर्देश दिए गए, दूसरे केंद्र की आंगनवाड़ी कार्यकत्री का निरीक्षण के दौरान घर आकर उपस्थित हुई थी, दोनों केंद्र एक साथ संचालित हो रहे थे, अभिलखो को पूर्ण करने एवं व्यवस्थित करने का निर्देश देते हुए प्री-स्कूल किट का उपयोग करने का निर्देश दिया।
आंगनवाड़ी केंद्र बड़ागांव विकास खंड डकोर के विभागीय भवनों में संचालित आंगनबाड़ी केंद्र खुले पाए गए आंगनवाड़ी केंद्र प्रथम की कार्यकत्री सुहानी देवी व द्वितीय केंद्र की कार्यकत्री श्रीमती उषा देवी मौके पर विभागीय ड्रेश में उपस्थित पाई गई।
दोनों केंद्रों पर सहायिकाओं के पद रिक्त है। केंद्र पर बच्चे उपस्थित थे तथा ड्राई राशन भी मौके पर रखा पाया गया,साफ सफाई तथा प्रीस्कूल किट का उपयोग करने के निर्देश दिए गए, बजन मशीन क्रियाशील थी।
विकासखंड डकोर के परिसर के समीप बाल विकास परियोजना कार्यालय डकोर का आकस्मिक निरीक्षण किया मौके पर प्रभारी बाल विकास परियोजना अधिकारी श्रीमती संपत देवी प्रधान श्रीमती अनुराधा गुप्ता एवं श्री अजय आनन्द चतुर्थ श्रेणी कर्मचारी उपस्थित पाए गए। प्रभारी बाल विकास परियोजना अधिकारी द्वारा अवगत कराया गया कि श्रीमती देवेन्द्र कुमारी मुख्य सेविका क्षेत्र भ्रमण पर है लेकिन भ्रमण पंजिका नही मिली। स्वयं सहायता समूह को ड्राई राशन का वितरण किया जा रहा था।
निर्देशित किया गया कि परियोजना कार्यालय पर अपरिहार्य स्थिति में आंगनवाड़ी कार्यकत्री को आंगनवाड़ी केंद्र संचालन समय के उपरांत ही बुलाया जाए अन्य सभी सभी कन्वर्जेंस विभागों से भी अनुरोध कर लिया जाए कि शासकीय कार्य हेतु केन्द्र संचालन के समय आंगनवाड़ी कार्यकत्री को ना बुलाया जाए।

 

रिपोर्ट-अमित कुमार उरई जंप5जालौन उत्तर प्रदेश।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.