सोनी न्यूज़
उत्तर प्रदेश

उत्तर प्रदेश मेट्रो में भर्तियों के नाम पर हो रही धोखाधड़ी से रहें सावधान

 

• धोखेबाज़ यूपीएमआरसी में भर्ती के फ़र्ज़ी दस्तावेजों के सहारे ठग रहे हैं रकम

हाल ही में उत्तर प्रदेश मेट्रो रेल कॉर्पोरेशन (यूपीएमआरसी) में हुईं 183 पदों पर नवीन भर्तियों के बाद, कॉर्पोरेशन में भर्तियों के नाम पर हो रही धोखाधड़ी के मामलों में इज़ाफ़ा देखने को मिल रहा है। लोगों को नियुक्ति से जुड़े फ़र्ज़ी दस्तावेज़ों के माध्यम से ठगे जाने के मामले सामने आए हैं।

धोखाधड़ी करने वाले हाल ही में हुई आधिकारिक भर्तियों की ख़बर का फ़ायदा उठाकर लोगों के साथ ठगी कर रहे हैं। ऐसे लोग, यूपी मेट्रो की फ़र्ज़ी वेबसाइट और फ़र्ज़ी रूप से तैयार किए गए नियुक्ति पत्र आदि के माध्यम से गुमराह कर रहे हैं; और कुछ मामले ऐसे भी हैं, जिनमें आम लोगों से मेट्रो के अधिकारी होने का झूठा दावा करके धोखाधड़ी की गई और भर्ती का लालच देकर पैसे भी ऐंठे गए। धोखेबाज़ों द्वारा झूठे और फ़र्ज़ी लेडरहेड्स पर नियुक्ति पत्र उपलब्ध कराए गए और इसके बदले में पैसे की मांग की गई।

यूपीएमआरसी लगातार ही ऐसे फ़र्ज़ीवाड़ों से बचने की अपील करता रहा है और बताता रहा है कि कॉर्पोरेशन में भर्ती आपकी मेरिट के आधार पर ही होगी, इसलिए इस तरह के मामलों से बचने का प्रयास करें।
साथ ही, कॉर्पोरेशन ने हमेशा से ही यह जानकारी दी है कि अगर कंपनी में कोई आधिकारिक भर्ती होगी तो उसकी विधिवत सूचना या फिर भर्ती की परीक्षाओं के परिणाम आदि की जानकारी भी कंपनी की आधिकारिक वेबसाइट www.upmetrorail.com पर ज़रूर उपलब्ध कराई जाएगी। कंपनी अपने आधिकारिक सोशल मीडिया प्लैटफ़ॉर्म्स पर भी भर्ती से जुड़ीं जानकारियां साझा करती है और साथ-साथ फ़र्ज़ी नियुक्तियों से सावधान करती रहती है।

यूपीएमआरसी एकबार फिर सभी से यह अपील करता है कि सतर्क रहें और कंपनी की आधिकारिक वेबसाइट www.upmetrorail.com, आधिकारिक फ़ेसबुक (https://www.facebook.com/OfficialUPMetro/) और ट्विटर (https://twitter.com/officialupmetro) हैंडल्स (जो ब्लू टिक्स के साथ प्रमाणित हैं) के अलावा अन्य किसी भी स्रोत से मिली जानकारी पर विश्वास न करें और अगर कहीं भी आप इस तरह का संदेह पाते हैं, तो उसकी सूचना हमें भी दें ताकि हम उचित कार्रवाई कर सकें।

जनसंपर्क विभाग
उत्तर प्रदेश मेट्रो रेल कॉर्पोरेशन लि.

Content Protection by DMCA.com

ये भी पढ़ें :

समूह सखी का चार दिवसीय प्रक्षिक्षण हुआ संम्पन्न,साथ ही महिला दिवस के चलते महिला सखी को महिला दिवस

Ajay Swarnkar

लखनऊ:कल आयी बारिश से शहर भर में जलभराव

Ajay Swarnkar

JALAUN:वादी का न्याय सर्वोच्च है-दिनेश कुमार सिंह(ऐ.जे) हाईकोर्ट

Ajay Swarnkar

अपना कमेंट दें

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.