सोनी न्यूज़
उत्तर प्रदेश

बच्चों ने अपनी पॉकेट मनी से जरुरतमंदों को बांटा राशन, भावुक हुए सांसद

कोरोना महामारी के बढ़ते संकट काल में प्रधानमंत्री की अपील पर हर कोई अपने स्तर से समाज सेवा के कार्य में जुटा है। ऐसे में कानपुर के बच्चे कहां पीछे रहने वाले हैं और अपनी पाकेट मनी में एकत्र किये रुपयों से राशन खरीदकर जरुरतमंदों को बांट दिये। यह देख शहर सांसद सत्यदेव पचौरी भी भावुक हो गये और बच्चों की इस सेवा भाव पर प्रसन्नता जताते हुए उनका हौसला आफजाई किये। सांसद ने कहा कि बच्चों पर प्रधानमंत्री की अपील का जबरदस्त असर हुआ है और शहरवासी यह सुनिश्चित कर लें कि अपने आस-पास कोई भी व्यक्ति भूखा न सोने पाये। इस आपदा में हम सभी को मानवीय दृष्टिकोण से जरुरतमंदों की सहायता में बढ़-चढ़कर भाग लेना है।

वैश्विक महामारी कोरोना के चलते जारी लॉकडाउन रोजाना कमाकर खाने वालों के लिए परेशानियों का सबब बनता जा रहा है। हालांकि समाज का अधिकांश तबका अपने सामर्थ के अनुसार ऐसे लोगों की बराबर सहायता कर रहा है। हो भी क्यों न, यही मानवीय दृष्टिकोण है। दूसरी तरफ प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी भी लोगों से बराबर अपील कर रहे हैं कि अपने आस-पास कोई भी व्यक्ति भूखा न रहने पाये। इस अपील का असर कानपुर के कुछ बच्चों पर ऐसा पड़ा कि अपनी पाकेट मनी में एकत्र किये गये रुपयों से जरुरतमंदों को राशन बांटने में उपयोग कर डाले। यह बच्चे कानपुर ही नहीं आस-पास के जनपदों के लिए भी मिसाल बन गए हैं। जिन्होंने अपनी पॉकेट मनी से एकत्र हुए पैसों को निजी कार्य में न लगाकर उन गरीब असहाय लोगों को राशन मुहैया कराने में खर्च किये।

दरअसल कानपुर के रामकृष्ण नगर मिशन इलाके के निवासी पप्पी पांडे के पुत्र एवं पुत्रियों ने पिछले कुछ समय में अपने पॉकेट मनी से पैसे बचाकर एकत्र किए थे। बेटी दीक्षा पांडे ने साइकिल खरीदने के उद्देश्य से रखे पैसों को गरीबों के लिए अनाज मुहैया कराने में खर्च कर दिए। क्योंकि कोरोना महामारी के संकट काल में सबसे ज्यादा कोई परेशान हुआ है तो वह गरीब वर्ग। ऐसे में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अपील पर बड़ी संख्या में लोगों ने सेवा भाव कार्य में तत्परता दिखाई। प्रधानमंत्री की इस अपील को बच्चों ने अपने दिलो दिमाग में बसा लिया और खुद की ख्वाहिशों को पूरा करने के बजाय उन पैसों को किसी की मजबूरी में सहायता स्वरूप खर्च कर दिए। आज इन बच्चों की पॉकेट मनी के माध्यम से आए अनाज में डेढ़ सौ से अधिक लोगों को खाद्य सामग्री पैकेट उपलब्ध कराई गई। जिसमें 5 किलो आटा, 2 किलो चावल, 2 किलो शक्कर और सरसों के तेल की शीशी सहित अन्य जरूरी सामान उपलब्ध थे। इस संबंध में बच्चों कहना है कि भविष्य में भी जरूरत पड़ेगी तो आगे आकर कार्य करेंगे। बच्चों का हौसला अफजाई करने पहुंचे कानपुर नगर के सांसद सत्यदेव पचौरी ने कहा कि उनका आने का मकसद केवल इन बच्चों का उत्साहवर्धन करना था ताकि और बच्चे भी इन से प्रेरणा लें साथ ही साथ उन लोगों के लिए भी नजीर है जो अभी भी इस दौर में हाथ थामे बैठे हैं। सांसद ने प्रधानमंत्री की अपील का असर इन बच्चों पर जबरदस्त हुआ है और जब बच्चों के मन में सेवा भाव की ऐसी भावना होगी तो यह सुनिश्चित है कि प्रधानमंत्री की अपील का कानपुर में शत प्रतिशत पालन होगा और कोई भी व्यक्ति भूखा नहीं रहेगा।

Content Protection by DMCA.com

ये भी पढ़ें :

जालौन में प्रजापति सभा द्वारा किया गया मेघावी छात्र/छात्रओं का सम्मान समारोह

Ajay Swarnkar

सिगरेट और तंबाकू बेचने के लिए अब हर दुकानदार को लेना होगा लाइसेंस।

Ajay Swarnkar

जालौन-गरीबो की मद्दत करो उन्हें बेज़्ज़त न करो-पत्रकार अलीम

AMIT KUMAR

अपना कमेंट दें

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.