सोनी न्यूज़
जालौन पॉलिटिक्स

जालौन-किसानों का सम्मान कर भाजपा ने किया अमृत सरोवर अभियान श्रमदान

जगम्मनपुर(जालौन)।भारतीय जनता पार्टी ने केंद्र सरकार कि आठ वर्ष की उपलब्धियों पर किसानों से संवाद करके अमृत सरोवर अभियान के तहत श्रमदान किया।
भारत में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व वाली केंद्र सरकार के आठ वर्ष पूर्ण होने पर सेवा सुशासन और गरीब कल्याण के नाम से भाजपा द्वारा 75 घंटे विभिन्न प्रकार के कार्यक्रमों की रूपरेखा तय की गई है जिसमें समाज के प्रत्येक वर्ग से संपर्क करने की योजना है।
इसके तहत आज भारतीय जनता पार्टी किसान मोर्चा मंडल रामपुरा के द्वारा ग्राम जगम्मनपुर में आयोजित कार्यक्रम में भाजपा कार्यकर्ताओं पदाधिकारियों ने अमृत सरोवर अभियान श्रमदान के तहत भुजरया तालाब में श्रमदान किया व प्रगतिशील किसानों का माल्यार्पण कर उन्हें सम्मानित करके केंद्र सरकार की 8 वर्ष की उपलब्धियों पर चर्चा की एवं वृक्षारोपण कर किसानों को पौध वितरित करके वृक्षारोपण करने व उनका संरक्षण करने का आग्रह किया।

इस अवसर पर भाजपा मंडल अध्यक्ष प्रमोद कुमार कठेरिया , मंडल प्रभारी डॉ शिवनाथ सिंह वावली ,मंडल प्रवासी ज्योतिष कुरौंती,जिला उपाध्यक्ष बटेश्वर पाल ,प्रज्ञादीप गौतम प्रधान जगम्मनपुर, अनूप कुमार झा पूर्व प्रधान ,धीरू शुक्ला मंडल अध्यक्ष किसान मोर्चा, ब्रह्म प्रकाश वर्मा मंडल अध्यक्ष अनुसूचित मोर्चा, गुरमीत सिंह मंडल अध्यक्ष युवा मोर्चा, गायत्री वर्मा मंडल अध्यक्ष महिला मोर्चा, माधुरी भदौरिया सभासद ऊमरी, शिव कुमार सिंह गौर महामंत्री भाजपा ,संतोष प्रजापत उपाध्यक्ष ,अरविंद सिंह भदौरिया मंडल मंत्री, हरेंद्र सिंह चंदेल, शशांक भदौरिया, सतीस पचौरी ,भूपसिंह सेंगर पतराही, शिव कुमार याज्ञिक रामौतार तिवारी,पुष्पेन्द्र चंदेल,श्री ओम तिवारी,कमलेश पाल,मलखान पाल,सीताराम प्रजापत, अनुरुद्ध सोनी सहित लगभग एक सैकड़ा किसान व भाजपा कार्यकर्ता मौजूद थे।
कार्यक्रम का संचालन विजय द्विवेदी भाजपा मंडल महामंत्री ने किया।

रिपोर्ट-अमित कुमार उरई जनपद जालौन उत्तर प्रदेश।

ये भी पढ़ें :

मजदूरी न मिलने से जॉब कार्ड धारी पहुंचे खंड विकास अधिकारी के पास

Lavkesh Singh

जालौन-केंद्र सरकार नीतियों के विरोध में जनपद के किसान भी उतरे सड़कों पर

AMIT KUMAR

जालौन-मटर महोत्सव में 11 श्रमिकों के बच्चों को वितरित की गई साइकिल जिलाधिकारी ने दिखाई हरी झंडी

AMIT KUMAR

अपना कमेंट दें

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.