प्रचार
  • पूरे उत्तर प्रदेश में शुभ अवसरों पर विज्ञापन एवं बधाई सन्देश देने के लिए सम्पर्क करे-9415596496 -9935930825 -पूरे बुन्देलखण्ड शुभ अवसरों पर विज्ञापन एवं बधाई सन्देश देने के लिए सम्पर्क करे-अशफाक अहमद बुन्देलखण्ड व्यूरो-मो-9838580073 -जनपद जालौन में शुभ अवसरों पर विज्ञापन एवं बधाई सन्देश देने के लिए सम्पर्क करे-रंजीत सिंह-मो-8423229874,श्यामजी सोनी मो-9839155683,अमित कुमार मो-7526086812,जनपद झाँसी में शुभ अवसरों पर विज्ञापन एवं बधाई सन्देश देने के लिए सम्पर्क करे-अरुण वर्मा मो-9455650524-जनपद आजमगढ़ में शुभ अवसरों पर विज्ञापन एवं बधाई सन्देश देने के लिए सम्पर्क करे-रामानुजाचार्य त्रिपाठी मो-9452171219-जनपद कानपुर देहात में शुभ अवसरों पर विज्ञापन एवं बधाई सन्देश देने के लिए सम्पर्क करे-मनोज कुमार सिंह मो-9616891028-
उत्तर प्रदेश वीडियोस

कानपुर देहात-विधायक के दबाव में पुलिस ने हत्या को आत्महत्या में तब्दील

जनपद कानपुर देहात में पुलिस एक एसा कारनामा देखने को मिला जहा पुलिस ने हत्या के मामले को सत्ता की हनक ओर रुपयो की धमक के चलते हत्या के मामले को आत्म ह्त्या मे तब्दील कर दिया ओर मृतक के परिजन न्याय के लिए दर दर की ठोकरे खाने को मजबूर है | करीब 10 महीने पहले एक युवक का शव मृतक के दोस्त के घर के अंदर संदिगध परिस्तिथियों में फांसी के फंदे पर लटका मिला था मृतक के परिजनों की तहरीर पर पुलिस ने लोगो के खिलाफ हत्या का मुकदमा दर्ज किया था लेकिन 10 महीने का वक्त गुज़र जाने के बाद भी पुलिस ने आरोपियों को गिरफ्तार नही किया बल्कि मामले में एफ आर लगाकर हत्या को आत्महत्या में तब्दील कर दिया और  ये सब सत्तारुण पार्टी के विधायक के दबाव में हुआ आरोप है कि ये सब पुलिस ने विधायक जी के दबाव में किया |

 –  जी हा पूरा मामला कानपुर देहात के  देवराहट थाना क्षेत्र के सुजौरा गांव का है जहां श्री नारायण मिश्रा का आरोप है कि उनके बेटे दिलीप उर्फ मोनू पंडित की बीती 17 सितंबर 2017 को गांव के रहने वाले रणवीर सचान ने अपने घर में बुलाकर हत्या कर दी  थी  और मृतक के शव को फांसी के फंदे से लटका दिया था जिसके बाद पुलिस ने मृतक के परिजनों की तहरीर पर हत्या का मुकदमा दर्ज किया था लेकिन काफी वक्त बीत जाने के बाद भी पुलिस ने कोई गिरफ्तारी नही की ओर मामले में पुलिस ने मोनू पंडित की हत्या को आत्महत्या में तब्दील कर एफ आर लगा दी आरोप है कि पुलिस ने ये सब भोगनीपुर से बीजेपी विधायक विनोद कटियार के दबाव में किया |

 –  रो-रो कर मीडिया के सामने भाई की मौत के न्याय के लिए दर दर भटकती शिखा ओर उसकी माँ ने न्याय की आस पुलिस अधीक्षक से गुहारलगायी है  मृतक मोनू की माँ की माने तो उनके बेटे की हत्या गांव के ही दबंग रणवीर सचान और उनके बेटे विकास सचान ने कर दी थी हत्या करने के बाद शव को फांसी के फंदे से लटका दिया था जिसके बाद पुलिस ने रणवीर सचान ओर विकास सचान के खिलाफ हत्या का मुकदमा दर्ज किया था लेकिन आज तक कोई आरोपियों को गिरफ्तार किया गया है और ना ही कोई कार्रवाई होती नजर आ रही है और आरोपी खुलेआम घूम रहे हैं और हम लोगों को आए दिन धमकी भी देते हैं पुलिस कार्रवाई इसलिए नहीं कर रही है क्योंकि आरोपी दबंग और पावरफुल हैं और उनकी मदद भोगनीपुर विधायक विनोद कटियार करने में लगे हुए हैं सत्ता की हनक और पैसा की धमक के कारण हम लोगों की कोई सुनवाई नहीं हो रही है हम लोग केवल पुलिस से इंसाफ चाहते हैं |

 बाईट  —  शिखा ( मृतक मोनू की बहन )

बाईट  —  रन्नो मिश्रा ( मृतक की माँ )

बाईट  —  श्री नारायण ( मृतक के पिता )

 –  वही पुलिस अधीक्षक ने बताया की  बीती 17 सितंबर की घटना है जहां पुलिस ने रणवीर सचान के घर से दिलीप उर्फ मोनू पंडित का शव फांसी के फंदे से लटकता पाया था और मृतक के परिजनों ने रणवीर सचान के ऊपर हत्या का मुकदमा दर्ज कराया था जिसकी जांच करने पर थाना स्तर पर प्रथम दृष्टया हत्या का आरोप सिद्ध होता प्रतीत नहीं हुआ और मामले में आत्महत्या की बात पाई गई जिस वजह से कोई कार्यवाही नहीं की गयी मृतक के परिजनों की शिकायत पर दुबारा मामले जांच कराई जाएगी |

बाइट  —  राधे श्याम ( पुलिस अधीक्षक कानपुर देहात )

–  फिलहाल पूरे मामले में पुलिस ने सत्ता के दबाव में विधायक की बात पर हत्या के मामले को आत्महत्या में तब्दील कर मुकद्दमे को स्पंज कर दिया था अब देखना यह होगा की क्या पुलिस दोबारा जांच कर हत्या के मामले में आरोपियों को जेल भेजती है या फिर से उसी विवेचना को पेश कर दिया जाएगा । 

 

Content Protection by DMCA.com

ये भी पढ़ें :

झांसी मीडिया क्लब का चतुर्थ वर्षीय होली मिलन समारोह बड़ी धूम से मना

Ajay Soni

बिल्हौर थाना क्षेत्र के राजेपुर ग्राम में धार्मिक कार्यक्रम की परमीशन की आड़ में चल रहा है अश्लील नृत्य

Ajay Soni

चिड़ियाघर सीरियल के डायरेक्टर अनिल दुबे के सम्मानित होने पर युवाओं ने जताया हर्ष

Ajay Soni

अपना कमेंट दें

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.