सोनी न्यूज़
उत्तर प्रदेश

लाल जी टण्डन फ़ाउण्डेशन”ने कोरोना मरीजों को निःशुल्क सेवा उपलब्ध कराने के लिए भेंट की एंबुलेंस 

 

“लाल जी टण्डन फ़ाउण्डेशन”के अध्यक्ष आशुतोष टण्डन गोपाल जी ने ‘एक कोशिश ऐसी भी’ संस्था की अध्यक्ष श्रीमती वर्षा वर्मा जी को सौंपी एम्बुलेंस

लखनऊ ,“लाल जी टण्डन फ़ाउण्डेशन” के अध्यक्ष श्री आशुतोष टंडन (गोपाल जी) ने कहा कि कोविड-19 की परिस्थितियों में जिला के समाजसेवी हर प्रकार से जिला प्रशासन व सरकार की मदद को तत्पर हैं। इसी कड़ी में “लाल जी टण्डन फ़ाउण्डेशन” की ओर से एक एम्बुलेंस ‘एक कोशिश ऐसी भी’ संस्था को निःशुल्क हेतु भेंट की गयी है।

ये एंबुलेंस कोरोना पाजीटिव मरीजों के इलाज के लिए काफी मददगार साबित होगी। गोपाल जी ने कहा कि बहुत सी संस्थाओं व समाजसेवी लोगों ने जिला प्रशासन को निरंतर सहयोग व मदद उपलब्ध करवाई जा रही है। “लाल जी टण्डन फ़ाउण्डेशन” के अध्यक्ष श्री आशुतोष टंडन (गोपाल जी) ने ‘एक कोशिश ऐसी भी’ की अध्यक्ष श्रीमती वर्षा वर्मा जी को एंबुलेंस की चाबी सौंपी। श्री आशुतोष टंडन ने कहा कि कोरोना संक्रमित मरीजों को उनके घर से आइसोलेशन वार्ड में लाने एवं ठीक होने के उपरांत वापस उसे घर छोड़ने के लिए उक्त एंबुलेंस एक वरदान साबित होगी। ये एम्बुलेंस कोविड संक्रमित मरीजों के लिहाज से सारी सुविधाओं से युक्त है।

गोपाल जी ने कहा कि कोरोना के प्रति अभी लोगों में डर कम हुआ है और वह धीरे-धीरे जागरूक भी हुए हैं। लोगों को कुछ विशेष सावधानी अवश्य बरतनी चाहिए, जिसके लिए “लाल जी टण्डन फ़ाउण्डेशन” की ओर से भी निरंतर लोगों से अपील की जा रही है कि वे सोशल डिस्टेंसिंग, घर से बाहर निकलने पर मास्क का प्रयोग करें, हाथों की बार-बार सफाई, हाथों से नाक व मुंह को न छुएं, कार्यस्थलों पर सरकार की गाइडलाइन अनुसार कार्य करें। कोरोना के अधिकतर मामले जल्दी ठीक भी हो रहे हैं तथा उन्हें अस्पताल जाने की भी आवश्यकता नहीं हो रही। उन्होंने कहा कि बुजुर्ग व्यक्ति या पहले से किसी अन्य बीमारी से पीड़ित व्यक्ति का अधिक ध्यान रखने की आवश्यकता है।

ये भी पढ़ें :

कांग्रेस पार्टी करेगी पूरे देश में उपवास

Ajay Swarnkar

गांव-गांव घर-घर जा कर CAA का किया जा रहा जागरूप

Ajay Swarnkar

चित्रकार ने दिखाया हुनर गुरु पूर्णिमा के दिन संत श्री रोपड़ गुरु जी की तस्वीर को कैनवास में उकेरी

Ajay Swarnkar

अपना कमेंट दें

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.