सोनी न्यूज़
Other जालौन

किसान के बेटे ने जनपद का नाम किया रोशन यूपीपीसीएस परीक्षा में नायब तहसीलदार के पद पर हुआ चयन।

उरई(जालौन)-यूपीपीसीएस यानी उत्तर प्रदेश लोक सेवा आयोग में जनपद के गौरव जालौन ब्लॉक के ग्राम पंचायत अलाईपुरा के होनहार बेटे ने 2019 उत्तर प्रदेश लोक सेवा आयोग की परीक्षा में नायब तहसीलदार के पद पर चयन होकर जनपद का नाम रोशन किया है।
वही 2018 की पीसीएस परीक्षा में उत्तीर्ण कर एसीएफ (असिस्टेंट कॉन्जेर्वेटर ऑफ फारेस्ट)पद पर चयन हुए था लेकिन वह रास नहीं आया और आज यूपीपीएसीएस परीक्षा में नायब तहसीलदार के पद पर चयन हुआ। आपको बता दें कि वेद प्रकाश के दादा जी श्रीरामगोपाल भास्कर जो कि अध्यापक थे और पिता अवधेश एक सामान्य किसान हैं और मां पुष्पा देवी ग्रहणी का कार्य करती हैं तीन भाइयों में बड़े भाई घर पर रहकर खेती किसानी का कार्य देखते हैं और छोटा भाई सिद्धार्थ जोकि बीटीसी कर रहा है और वेदप्रकाश की शिक्षा कक्षा एक से आठ तक गांव में ही पूरी की इसके बाद उन्होंने जालौन से हाईस्कूल व इंटर उत्तीर्ण किया तथा एक साल बीएससी डीवीसी से छोड़ उनका चयन बीटेक में हो गया और उन्होंने बीएससी को छोड़कर बीटेक में एडमिशन ले लिया और बीटेक इलाहाबाद से कंप्लीट कर दिल्ली पहुंच गए और उन्होंने दिल्ली में शिक्षा देकर शिक्षा ग्रहण की और वह है आज उन्होंने 2019 उत्तर प्रदेश लोक सेवा आयोग परीक्षा में नायब तहसीलदार के पद पर चयन होकर जनपद का नाम रोशन किया है और इस खुशी से संपूर्ण गांव में एक खुशी का माहौल बना हुआ है और उनके माता पिता ने बताया है कि बचपन से ही उसकी रूचि शिक्षा की ओर रही है और वेद प्रकाश ने बताया है कि वह बाबा साहब डॉक्टर भीमराव अंबेडकर के पुस्तकों के गहन अध्यन से प्रेरणा लेकर आज यूपीपीसीएस परीक्षा में नायब तहसीलदार के पद पर चयन किया है।

फ़ोटो परिचय-गौरव(यूपीपीसीएस परीक्षा में नायब तहसीलदार के पद पर चयनित)।

 

रिपोर्ट-अमित कुमार जनपद जालौन।

ये भी पढ़ें :

जालौन-जिला दीवानी न्यायालय परिसर उरई में नोवल कोरोना के रोकथाम और इससे बचाव के उपाय हेतु की गई जगह-जगह हाथ धोने के लिये हैण्डवाॅश और सैनेटाईजर की व्यवस्था

AMIT KUMAR

125 वर्ष प्राचीन शिव मंदिर में हर्षाेल्लास के साथ मना महाशिवरात्रि पर्व

Ajay Swarnkar

जालौन-महिला शक्ति टीम प्रभारी ने शहर में पैदल मार्च कर लोगों को किया जागरूक।

AMIT KUMAR

अपना कमेंट दें

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.