सोनी न्यूज़
Uncategorized

कोरोना की टेस्टिंग अब कानपुर मे ही होगी

कोरोना वायरस की जांच करने के लिए कानपुर के गणेश शंकर विद्यार्थी मेडिकल कालेज में कोवीड-19 लैब बनाई गयी है | मेडिकल कालेज में कोरोना जांच लैब खुलने से कानपुर के आसपास के 11 जिलों को इसका लाभ मिलेगा | कानपुर मंडलायुक्त व जिलाधिकारी ने कोरोना टेस्टिंग लैब का उद्घाटन किया |
कोरोना से पीड़ित मरीजों की जांच करने के लिए उनके सैम्पल अभी तक कानपुर से बाहर भेजे जाते थे,जिसकी वजह से जांच रिपोर्ट आने में काफी समय लगता था | इसको देखते हुए मेडिकल कालेज के माइक्रोबायोलॉजी विभाग में कोवीड-19 टेस्टिंग लैब बनाई गयी है | इंडियन काउन्सिल आफ मेडिकल रिसर्च दिल्ली से अप्रूवल मिलने के बाद सोमवार को मंडलायुक्त व जिलाधिकारी ने लैब का उद्घाटन किया |  मंडलायुक्त सुधीर एम बोबडे ने बताया कि राज्य सरकार व चिकित्षा शिक्षा विभाग की तरफ से टेस्टिंग को प्राथमिकता दिया जा रहा है |  अभी तक मेडिकल कालेज में सैम्पल टेस्ट करने की सुविधा नहीं थी,लेकिन सोमवार को यंहा पर पीसीआर मशीन की स्थापना की गयी है | पीसीआर मशीन की मदद से पांच घंटे में 46 टेस्ट किये जा सकते है |
उनका कहना है कि जो हाट स्पॉट एरिया है वंहा से ज्यादा से ज्यादा सैम्पल लिए जाय  जिससे पता चल सके की कोरोना को लेकर क्या प्रगति हो रही है | मंडलायुक्त का कहना है कि हम लोग रैपिड किट भी लाने का प्रयाश कर रहे है,जिससे कानपुर के आसपास के जिलों को इसका फ़ायदा मिल सके | मेडिकल कालेज में बनाये गए टेस्टिंग लैब में कोरोना की जांच बिलकुल निशुल्क होंगी |  मेडिकल कालेज की प्रिंसिपल आरती लाल चंदानी का कहना है कि सैम्पल लेने के बाद पांच से छै घंटे में जांच रिपोर्ट मिल जायेगी |  उनका कहना है कि यह लैब पूरी तरह से आधुनिक है,अगर सैम्पल अच्छी तरह से कलेक्ट किये जाय तो इस लैब की हाई सेंस्टिविटी की वजह से जांच अच्छी होंगी
Content Protection by DMCA.com

ये भी पढ़ें :

शीत लहर को देखते हुए कस्बे में प्रशाशन ने जलबाए अलाव

Lavkesh Singh

जानिए कैसे लगती है लू और क्या है बचाव

Ajay Swarnkar

दलितों की दबंगों ने की पिटाई मामूली विवाद को लेकर दबंगों ने जमकर दलितों की पिटाई

Ajay Swarnkar

अपना कमेंट दें

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.