सोनी न्यूज़
प्रचार
  • राजधानी लखनऊ में शुभ अवसरों पर विज्ञापन एवं बधाई सन्देश देने के लिए सम्पर्क करे-8299589254 निखिल श्रीवास्तव संवाददाता–लखनऊ,पूरे उत्तर प्रदेश में शुभ अवसरों पर विज्ञापन एवं बधाई सन्देश देने के लिए सम्पर्क करे-9415596496 -9935930825 -पूरे बुन्देलखण्ड शुभ अवसरों पर विज्ञापन एवं बधाई सन्देश देने के लिए सम्पर्क करे-अशफाक अहमद बुन्देलखण्ड व्यूरो-मो-9838580073 -जनपद जालौन में शुभ अवसरों पर विज्ञापन एवं बधाई सन्देश देने के लिए सम्पर्क करे--मो-8299896742,श्यामजी सोनी मो-9839155683,अमित कुमार मो-7526086812,जनपद झाँसी में शुभ अवसरों पर विज्ञापन एवं बधाई सन्देश देने के लिए सम्पर्क करे-अरुण वर्मा मो-9455650524-जनपद आजमगढ़ में शुभ अवसरों पर विज्ञापन एवं बधाई सन्देश देने के लिए सम्पर्क करे-रामानुजाचार्य त्रिपाठी मो-9452171219-जनपद कानपुर देहात में शुभ अवसरों पर विज्ञापन एवं बधाई सन्देश देने के लिए सम्पर्क करे-मनोज कुमार सिंह मो-9616891028-
धर्म जालौन सोशलवर्क

जालौन-रिटायर फौजी ने अपनी पत्नी के साथ मिलकर गरीबों में बांटे फल।

उरई(जालौन)।सरहद पर रहकर भारतीयों को चैन से सोने व खुद पहरेदारी कर रात-दिन सुरक्षा की कमान संभालने वाले जवानों को हम भारतीय के वास्तविक रुप से सहृदय धन्यवाद के पात्र होते है यदि देखा जाये तो उन फौजीयों का दिल मौम की तरह मर्म होता है काफी हद तक तो गरीबों की प्राकृतिक दुर्दशा देख अपने खाने का निवाला उन गरीब असहाय व्यक्तियों को दे देते है ऐसा ही कुछ देखने में आया बी एस एफ से रिटायर फौजी कमलेश शिवहरे व उनकी पत्नी संतोषी शिवहरे ने गरीब व असहाय व्यक्तियों को फल वितरण किये

कोरोना जैसी गम्भीर महामारी में स्थिति को देखते हुए देश के प्रधानमंत्री को एक अहम फैसला लेने के लिए मजबूर होना पड़ा जिससे पूरे भारत मे 21 दिनो का लॉक डाउन किया गया इस जैवीय आपदा में गरीब,मजदूर,असाह व्यक्तियों को फल,आटा, दाल, चावल अन्य खाद्दान्न के सामान में मदद करना एक उदारवादी व्यक्ति की पहचान में अहम भूमिका निभाता है।

Content Protection by DMCA.com

ये भी पढ़ें :

जालौन-कोटेदार ने फाँसी लगाकर अपनी जीवनलीला की समाप्त

Soni News

गांधी इंटर कॉलेज के प्रधानाचार्य डा0 रविशंकर अग्रवाल को किया गया सम्मानित

ranjeet singh

कब्बडी सीजन 2 टूनामेंट की तैयारी पूरी 30 तारीख को होगा उद्घाटन।।

Soni News

अपना कमेंट दें

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.