सोनी न्यूज़
उत्तर प्रदेश जालौन

Jalaun:पुष्टाहार उत्पादन इकाई की मशीनों का पूजन एवं समस्त संकुल स्तरीय संघों का वार्षिक अधिवेशन एवं आमसभा, का किया गया आयोजन।

जनपद जालौन

विकास खण्ड कुठौंद में 04 संकुल स्तरीय संघों का वार्षिक अधिवेशन एवं रोशनी प्रेरणा महिला लघु उद्योग की पुष्टाहार उत्पादन इकाई में मशीनों का पूजन मुख्य अतिथि जिलाधिकारी चाँदनी सिंह के कर कमलों द्वारा किया गया। साथ ही स्वयं सहायता समूहों को विकास खण्ड के इण्डियन बैंक एवं आर्यावर्त बैंक द्वारा कुल 4 करोड़ 61 लाख का कैश क्रेडिट लिमिट (सीसीएल) वितरित किया गया जिसमें विकास खण्ड कुठौंद की स्वयं सहायता समूह की सैकड़ों महिला सदस्यों द्वारा प्रतिभाग किया गया है।

कार्यक्रम की अध्यक्षता कर रही जिलाधिकारी चाँदनी सिंह ने कहा कि महिलायें स्वरोजगार से जुड़कर आत्मनिर्भर बनने की दिशा में अग्रसर होकर कार्य रही है और इस कार्य को क्लस्टर लेवल पर 200-300 महिलायें एक जैसी गतिविधि कर स्वरोजगार से जुड़ें जिसमें प्रतीक की रूप में स्टॉलों के माध्यम से अपने उत्पादों का प्रदर्शन करें।

निरीक्षण के दौरान स्वनिर्मित उत्पादों को भेंट स्वरूप दिया। साथ ही पुष्टाहार उत्पादन इकाई का संचालन करने के लिये एसोसियेशन ऑफ परिसन (ए०ओ०पी०) के सदस्यों को प्लांट के संचालन को व्यवस्थित तरीके से करने के लिये कहा गया है। साथ ही साथ उपायुक्त स्वतः रोजगार अवधेश दीक्षित द्वारा कार्यक्रम की प्रशंसा करते हुये महिलाओं को आत्मनिर्भर एवं जागरूकता के साथ कार्य करने के लिये प्रेरित किया गया है।

इसी के साथ मुख्य अतिथि के द्वारा स्वयं सहायता समूह के उत्कृष्ट कार्य करने वाले सदस्यों को स्मृति चिन्ह के साथ सम्मानित किया गया। इस कार्यक्रम में ब्लॉक प्रमुख, खण्ड विकास अधिकारी महोदया प्रतिभा शल्या, सहायक विकास अधिकारी (पंचायत) जिला मिशन प्रबन्धक दुर्गा प्रसाद नवल किशोर, धर्मेन्द्र जैन, ब्लॉक मिशन प्रबन्धक रवि यादव, मोहनलाल, गौरव पाण्डेय एवं रविकरन सहित सभी लोगों द्वारा प्रतिभाग किया गया है।

ये भी पढ़ें :

भाजपा प्रत्याशी देवेंद्र सिंह उर्फ भोले उड़ा रहे आदर्शआचार संहिता की धज्जियां।

Ajay Swarnkar

महराजपुर पुलिस और शातिर बदमाश के साथ हुई मुठभेड़ में बदमाश के पैर में लगी गोली

ashish knp

कोटेदार की मनमानी से ग्रामीणों में भारी आक्रोश,यूनिट से कम राशन देने का लगाया आरोप

Ajay Swarnkar

अपना कमेंट दें

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.