सोनी न्यूज़
जालौन धर्म

जालौन-कोरोना काल मे अनाथ हुए बच्चों के शिक्षा की जिम्मेदारी लेगा भारत विकास परिषद।

उरई(जालौन)।आज दिनांक27/05/2021 को एक प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान प्रांतीय अध्यक्ष अजय इटौरिया एव मुख्य शाखा के अध्यक्ष लखनलाल चंदैया ने संयुक्त रूप से बताया कि जो भी बच्चे कोरोना काल के दौरान अनाथ हो गए उनकी हर संभव आर्थिक मदद भारत विकास परिषद करेगी जिसके लिए जनपद जालौन से किसी भी ऐसे बच्चों की जानकारी आप भारत विकास परिषद के प्रांतीय अध्यक्ष अजय इटौरिया,अध्यक्ष लखन लाल चंदैया,सचिव मोहित सिपौलिया,कोषाध्यक्ष रामनरेश गुप्ता,अजय महतेले,गिरीश पालीवाल,महिला संयोजिका श्रीमती कल्पना कनकने,संरक्षक रामकिशोर पाहरिया,जीवनराम गुप्ता,डॉ आदित्य सक्सेना ,डॉ अनिल श्रीवास्तव,डॉक्टर हरिमोहन पुरवार के पास सूचना उपलब्ध करा दें जिससे कि भारत विकास परिषद उन बच्चों की शिक्षा दिलाने में मदद कर सके। जिला अध्यक्ष राजेश निगोतिया ने बताया जो भी लोग बुजुर्ग या विकलांग हैं और वह कोविड-19 का टीकाकरण करवाना चाहते हैं आने जाने की दिक्कत है तो वह भारत विकास परिषद की सेवा वेन का उपयोग कर सकते हैं शाखा के सचिव मोहित सिपोलिया ने बताया कि 5 जून विश्व पर्यावरण दिवस के उपलक्ष्य मे भारत विकास परिषद बच्चों की प्रतियोगिता आयोजित करा रहा है।
जिसमें 18 वर्ष तक के बच्चे अपना स्वयं का पर्यावरण पर एक अखबार बनाएं और 12 वर्ष तक के बच्चे पेड़ लगाओ,पानी बचाओ,पॉलिथीन हटाओ किसी भी एक टॉपिक पर A4 साइज में पोस्टर बनाएं और इन नंबरों 94154 59739, 95329 46242 पर उसे भेजें उत्कृष्ट तीन प्रतिभागियो को पुरस्कृत किया जायेगा।
संरक्षक रामकिशोर पाहरिया ने कहा भारत विकास परिषद के सभी सदस्य 5 जून को एक एक पेड़ लगाकर उसका संरक्षण करेंगे साथ ही सभी से निवेदन है वर्तमान समय को देखते हुए ऑक्सीजन की कीमत को जानने के बाद सभी लोग यदि केवल एक पेड़ का ही संकल्प लें तो निश्चित तौर पर हम अपने जीवन को बचाने में सफल होंगे।
रीतेश तरसौलिया ने बताया कि कोविड-19 के दौरान महामारी के दौरान जनपद के जिन डॉक्टरों ने लोगों का इलाज किया भारत विकास परिषद ऐसे डॉक्टरों को नमन करता है और सम्मान करता है।

 

रिपोर्ट-अमित कुमार जनपद जालौन।

Content Protection by DMCA.com

ये भी पढ़ें :

जालौन-उरई में कल महर्षि वाल्मीकि जयंती पर निकली जायेगी शोभायात्रा

AMIT KUMAR

सरकार सेल्फ फाइनेंस (वित्तविहीन) विद्यालयों के शिक्षकों के भरण पोषण हेतु 15000 रु मासिक मानदेय सुनिश्चित करे

Ajay Swarnkar

उरई-रामनवमी का पवन पर्व हर्ष उल्लास के साथ मना,जय श्रीराम की गूंज से गूँजा शहर

Ajay Swarnkar

अपना कमेंट दें

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.