सोनी न्यूज़
Other जालौन

जालौन-पत्रकारों के उत्पीड़न के विरोध में कांग्रेसियों ने सौंपा ज्ञापन।

उरई(जालौन)।पुलिस द्वारा पत्रकारों के किये जा रहे उत्पीड़न एवं फर्जी मुकदमा दर्ज करने के मामले को लेकर आज बुधवार को कांग्रेस जिलाध्यक्ष राजीव नारायण मिश्रा के नेतृत्व में शहर अध्यक्ष डा .रेहान सिददकी , अरविंद सेंगर ,शैलेंद्र ब्यास , करन श्रीवास,राजकुमार पिपरिया , लालूशेख,अभिषेक पाठक,सीटू तिवारी,सुरेश दीक्षित आदि कलेक्ट्रेट पहुंच कर जिलाधिकारी को सम्बोधित ज्ञापन उप जिलाधिकारी सत्येंद्र कुमार सिंह को भेंट करते हुए बताया कि जालौन में विगत समय से पुलिस द्वारा पत्रकारों के खिलाफ उत्पीड़न बढ़ा है।
पत्रकारों द्वारा पुलिसकर्मियों के शिथिल रवैये व भ्रष्टाचार उत्पीड़न आदि की वास्तविक खबर प्रकाशित करने पर उनके खिलाफ कई फर्जी मुकदमे लिख दिये गये।
कांग्रेसियों ने कहा कि पुलिस के अधिकारियों द्वारा भी ऐसे प्रकरण में शिथिल रवैया बादस्तूर जारी है इससे जिले के समूचे पत्रकार समूह में आक्रोश देखा जा रहा है।
उन्होंने कहा कि इस महामारी में प्रजातंत्र के चौथे स्तंभ मीडिया के सभी साथी किस तरह अपनी जान जोखिम में डालकर प्रशासन की प्रत्येक गतिविधियों को प्रिंट मीडिया एवं इलेक्ट्रॉनिक मीडिया के माध्यम से लोगों तक पहुंचाते है एवं जनता को प्रशासन के प्रति भरोसा बरकरार रखने का एक माध्यम बना हुआ है।
ऐसे कोरोना योद्धा होकर विषम परिस्थितियों में काम करने वाले पत्रकारों के ऊपर पुलिस द्वारा फर्जी मुकदमे लगाना केवल निंदनीय है बल्कि भत्सर्ना करने योग्य है।
यह आक्रोश भविष्य और अधिक बढ़ने का कारण भी बन सकता है।
कांग्रेस के लोगों ज्ञापन के माध्यम से जिलाधिकारी से मांग की है कि पुलिस द्वारा पत्रकारों के खिलाफ दर्ज फर्जी मुकदमा वापस लिया जाये तथा मजिस्ट्रेट से जाँच करवाकर दोषी पुलिस कर्मियों के खिलाफ दण्डात्मक कार्यवाही की जाए तथा जनपद में पुलिस द्वारा पत्रकारों का किया जा रहा उत्पीड़न बंद किया जाए।

रिपोर्ट-अमित कुमार जनपद जालौन।

ये भी पढ़ें :

जालौन:मुम्बई से फ़िल्म की शूटिंग करने आये दर्जन भर कलाकार लॉक डाउन में फंसे

Ajay Swarnkar

जालौन-नदीगांव पुलिस ने किया सराहनीय कार्य।

AMIT KUMAR

*प्रयास संस्था व युवाशक्ति टीम ने मैला ढोने बाले(स्वच्छकार), विधवा व बेसहारा गरीब परिवारों को किया राशनकिट वितरण*

Lavkesh Singh

अपना कमेंट दें

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.