सोनी न्यूज़
जालौन वीडियोस

आखिर क्यों छोड़ दी जालौन के डीएम ने अपनी कुर्सी

समाधान दिवस में जिला पंचायत सदस्य  और जालौन के जिलाधिकारी के बीच हुई नोकझोंक

जनपद जालौन के जिलाधिकारी है डॉ मन्नान अख्तर

जनपद जालौन के माधौगढ़ में आयोजित संपूर्ण समाधान दिवस में जिला पंचायत सदस्य नहरों के ओवरफ्लो होने की समस्या को लेकर जिलाधिकारी से बहस करने लगे।डीएम ने उनको समझाया भी लेकिन वह अपनी बात पर अड़े रहे।इससे डीएम साहब को गुस्सा आ गया।

जिला पंचायत सदस्य रवींद्र सिंह मंगलवार को संपूर्ण समाधान दिवस में पहुंचे।उन्होंने जिलाधिकारी डॉ. मन्नान अख्तर को समस्या बताते हुए कहा कि माइनरों की सफाई न होने से पानी ओवरफ्लो हो रहा है। सिचाई विभाग के अभियंता व बड़े अधिकारी कोई ध्यान नहीं दे रहे हैं।
उनकी बात को सुनकर डीएम ने उन्हें आश्वासन दिया कि अभी मौके पर अभियंता को भेजकर समस्या का निराकरण करवा देंगे। लेकिन जिला पंचायत सदस्य अपनी बात पर अड़े रहे।
उनकी इस बहस से डीएम साहब को गुस्सा आ गया और वह अपनी कुर्सी से उठकर खड़े हो गए और बोले नेता जी अब आप इस कुर्सी पर बैठकर न्याय कर दें। जब समस्या को संज्ञान में लिया गया है तो उसे सुनना भी चाहिए।इस तरह का ऐसा पहली बार हुआ कि एक नेता और अधिकारी के साथ तूतू मैंमैं हुई है।जिसे देख मौके पर मौजूद सभी लोग दंग रह गये। इसके बाद डीएम साहब ने नहर विभाग के अधिकारियों को बुला कर मौके पर जांच के लिए भेजा।

*रिपोर्ट-जनपद जालौन से soni news के लिए अमित कुमार।*

Content Protection by DMCA.com

ये भी पढ़ें :

jalaun-आखिर भ्रष्टाचरियों पर सरकार कब लगायेगी अंकुश

Ajay Swarnkar

कानपुर:हॉटस्पॉट इलाको में बने मदरसों में पढने वाले 90 में से 40 बच्चे कोरोना पॉजिटिव मिले

Ajay Swarnkar

बीजेपी सांसद प्रियंका रावत का क्यो छलका दर्द

Ajay Swarnkar

अपना कमेंट दें

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.