सोनी न्यूज़
Uncategorized

लखनऊ स्मार्ट सिटी द्वारा संचालित हुयी हेलो डॉक्टर प्रोग्राम की “टेली मेडिसिन सुविधा”

 

लखनऊ स्मार्ट सिटी द्वारा संचालित हेलो डॉक्टर प्रोग्राम की टेली मेडिसिन सुविधा अर्थात ई -ओपीडी सेवा कोविद-19 के इस आपातकाल में काफी मददगार सिद्ध हुई है। इस सेवा को कोई भी नागरिक निशुल्क 0522 – 3515700 पर कॉल करके प्राप्त कर सकता है |

स्मार्ट सिटी सीईओ एवं नगर आयुक्त डॉ इंद्रमणि त्रिपाठी ने बताया कि लखनऊ स्मार्ट सिटी ने लॉकडाउन में बीमार होने पर डॉक्टर के क्लीनिक या अस्पताल जाने की जरूरत समाप्त कर दी है। इस निशुल्क सेवा का प्रतिदिन कई मरीज लाभ उठा रहे हैं। लखनऊ स्मार्ट सिटी की हेलो डॉक्टर सेवा ने लॉकडाउन काल में शहरवासियों को निशुल्क और विश्वसनीय चिकित्सा सेवा मुहैया कराई है। इस सेवा के लिए लखनऊ के प्राइवेट डॉक्टर्स एसोसिएशन के जाने मानें डॉक्टर्स का साथ मिला है, इसके साथ ही सब्सिडाइज़्ड रेट पर दवाएं, सेनेटाइज़र और मास्क भी उपलब्ध कराए गये हैं।

हेलो डॉक्टर प्रोग्राम को देख रहे कंसलटेंट श्री अनुज अवस्थी ने बताया कि पिछले दस दिन में अब तक 650 मरीजों को विभिन्न डॉक्टर्स के द्वारा परामर्श दिया गया है | इस निशुल्क सेवा के लिए हेल्पलाइन नंबर 0522 – 3515700 का प्रचार प्रसार किया जा रहा है जिससे अधिक से अधिक नागरिकों को डाक्टरी सेवा का लाभ दिया जा सके |

आज दिनांक १ मई से वीडियो टेली मेडिसिन सेवा भी प्रारंभ कर दी गयी है, वीडियो टेली मेडिसिन सेवा के लिए सरल-सी प्रक्रिया है। इसमें लखनऊ स्मार्ट सिटी की वेबसाइट पर दिए लिंक / बैनर हेलो डॉक्टर पर क्लिक करके सेवा का लाभ लिया जा सकता है

सप्ताह में छह दिन एक निर्धारित लिंक या कन्टीन्यूस केयर हेल्थ एेप से एडवांस बुकिंग कराकर डॉक्टर से परामर्श प्राप्त किया जा सकता है। टेली मेडिसिन से डॉक्टर 15 मिनट तक परामर्श देते हैं।
टेली मेडिसिन द्वारा वीडियो कॉल की सुबिधा दे रहे डॉ संदीप कपूर के अनुसार डेली 10 से 20 लोग परामर्श लेते हैं जिनमें हर प्रकार के मरीज होते हैं कुछ मरीज किसी दूसरे डॉ से ट्रीटमेंट ले रहे है इस समय उन डॉ से बात न होने के कारण एडवाइज भी लेते है।

Content Protection by DMCA.com

ये भी पढ़ें :

सब्जी विक्रेता पर दबंगों ने चलाई गोली साथ में एक ग्राहक घायल

vishesh

जालौन-समाजसेवी डा.नत्थू सिंह ने यातायात कर्मचारियों को बांटे मास्क।

AMIT KUMAR

कोरोना संकट पर सीएम योगी आदित्यनाथ का बयान

Ajay Swarnkar

अपना कमेंट दें

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.