सोनी न्यूज़
जालौन

कमिश्नर ने दिए निर्देश फेरी लगाकर उपलब्ध कराई जाए आवश्यक सामग्री

 


👉सख्ती से कराएं लॉकडाउन का पालन—डीआईजी

✍उरई (जालौन)-
गुरूवार को झांसी मंडल कमिश्नर सुभाष चन्द्र एवं रेंज के डी0आई0जी सुभाष बघेल ने जनपद जालौन का दौरा किया। उरई मुख्यालय पहुंचे अधिकारियों ने जिला अधिकारी डा.मन्नान अख्तर व पुलिस अधीक्षक डा.सतीश कुमार के साथ नगर के प्रमुख मार्गों का जायजा लिया। इस दौरान इक्का दुक्का लोग ही सडकों पर नजर आये। जिन्हें हिदायत देकर घर वापस भेज दिया गया। वहीं अधिकारियों ने नगर के माहिल तालाब का निरिक्षण किया। जहां निरिक्षण के दौरान उन्होंने तालाब की साफ सफाई की जानकारी ली तथा उन्होंने तालाब में भरे पानी में एंटीबैक्टीरिया दवा डाले जाने व तालाब परिसर को सेनेटराइज कराये जाने के निर्देश दिए। वहीं इस दौरान मौजूद मीडिया कर्मियों से उन्होंने नगर में दूध, सब्जी व राशन वितरण की जानकारी हासिल की। इसके बाद कमिश्नर ने कहा कि जिले में गली गली फेरी लगाकर सब्जी वितरण की व्यवस्था सुनिश्चित की जाए। जो सब्जी विक्रेता फेरी लगाकर सब्जियों का वितरण करते हैं। उन्हें चिन्हित कर उनसे निर्धारित समय पर सब्जियां बिकवाई जाएँ। वहीं डिब्बे से गली गली दूध वितरण करने वाले दूधियों से दूध वितरण करवाया जाए। डीआईजी ने कहा कि लॉकडाउन का पालन सख्ती से कराया जाए। अनावश्यक बाहर निकले लोगों पर कडी कार्यवाही की जाए। हालांकि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा कोरोना वायरस के संक्रमण को फैलने से रोकने के लिए घोषित किए गए 21 दिन के लॉकडाउन के दूसरे दिन शहर में इसका व्यापक असर देखने को मिला। सुबह के वक्त प्रशासन ने आवश्यक वस्तुएं फल, सब्जी, किराने का सामान आदि खरीदने के लिए छूट दे दी है। इसलिए कुछ लोगों की आवाजाही देखी गई। लेकिन दोपहर बाद फिर से शहर की सडक़ों पर सन्नाटा पसर गया | इसके बाद डीएम, एसपी ने भी लॉकडाउन की स्थिति का जायजा लिया |

रिपोर्ट-रंजीत सिंह

🌍सोनी न्यूज़🌍

Content Protection by DMCA.com

ये भी पढ़ें :

जालौन-परिवहन विभाग उत्तर प्रदेश द्वारा जारी बुकलेट को जिलाधिकारी व पुलिस अधीक्षक को भेंट की।

AMIT KUMAR

तीन दिन के बुंदेलखंड दौरे पर भगवान परशुराम चेतना पीठ के संस्थापक अभिषेक मिश्रा।

AMIT KUMAR

राजधानी लखनऊ के तर्ज पर मिलावटी शराब बेचने वालों के खिलाफ प्रशासन एक्शन मोड में,छापा मारकर भरे शराब के नमूने

Ajay Swarnkar

अपना कमेंट दें

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.