सोनी न्यूज़
उत्तर प्रदेश

हैंडबॉल के राष्ट्रीय खिलाड़ी अंकित श्रीवास्तव ने पेश की मिशाल

हैंडबॉल के राष्ट्रीय खिलाड़ी अंकित श्रीवास्तव ने पेश की मिशाल

अपने विवाह में वधू पक्ष को भेंट किया तुलसी नीम एवम फूलों के पौधे

पर्यावरण जागरूकता को बनाया विवाह का हिस्सा

लखनऊ। राजधानी में शहर का नाम विदेशो तक मे फैलाने वाले हैंडबॉल खिलाड़ी अंकित श्रीवास्तव मंगलवार को परिणय सूत्र में बंध गए। धूमधाम के साथ होने वाले वैवाहिक समारोह में उस समय सबने वाहवाही कर दी जब वर पक्ष के लोगो ने पर्यावरण के प्रति जागरुकता फैलाने के उद्देश्य से वधु पक्ष को तुलसी नीम एवं अन्य वातावरण शुध्द करने वाले पौधे भेंट किये। अंकित के साथ परिणय सूत्र में बंधने वाली शालिनी श्रीवास्तव भी ससुराल पक्ष की इस मुहिम को जानकर बेहद खुश है। अंकित श्रीवास्तव हैंडबॉल गेम के 2017 में जॉर्डन में हुए जूनियर एशियन चैंपियनशिप में खेल चुके है। इसी के साथ ही 2018 में उज़्बेकिस्तान में हुए इंडिपेंडेंस कप में दूसरे नम्बर पर सिल्वर मेडल प्राप्त कर चुके है। अंकित श्रीवास्तव मौजूदा समय मे सीमा सुरक्षा बल के चौथी बटालियन में मोहनलालगंज में तैनात हैं। सीनियर नेशनल जो अभी हाल ही में कानपुर में हुआ है उसमें राष्ट्रीय स्तर पर तीसरा स्थान प्राप्त कर चुके है। अंकित श्रीवास्तव ने बताया की फिलहाल तो वो एशियन गेम्स में जाने की के लिए रेगुलर प्रैक्टिस कर रहे है और यदि मौका मिला तो भारत का प्रतिनिधित्व करने के लिये हर चैंपियनशिप करने को तैयार रहेंगे।


अंकित श्रीवास्तव के भाई अमित श्रीवास्तव ने बताया की पेड़ो की कटान दिनों दिन बढ़ती जा रही है और लोगो ने धीरे धीरे छोटे पौधे भी लगाना बन्द करते जा रहे है,ऐसे में ज़रूरत है की घरेलू आयोजनों में पौधे उपहार स्वरूप दिए जाएं इसलिए पर्यावरण के प्रति जागरुकता को विवाह का हिस्सा बनाया गया। इस दौरान आशा वेलफेयर फाउंडेशन के उपाध्यक्ष एवम सोशल एक्टिविस्ट बृजेन्द्र बहादुर मौर्य सहित कई समाजसेवी मौजूद रहे।

Content Protection by DMCA.com

ये भी पढ़ें :

शिक्षक भर्ती घोटाले के बाद अब फ़र्ज़ी शिक्षक वेतन महाघोटाला सामने आया

Ajay Swarnkar

जिला अधिकारी के फर्जी हस्ताक्षर के मामले में झांसी जिला पूर्ति अधिकारी लिपिक को नवाबाद पुलिस ने किय

Ajay Swarnkar

नही रुक रही है खेतो में पराली जलाने की घटना

Ajay Swarnkar

अपना कमेंट दें

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.