सोनी न्यूज़
भंडाफोड़ उत्तर प्रदेश वीडियोस

फैक्ट्रियों से निकलने वाले क्रोमियम से आज भी दूषित पानी पीने को लोग हुए मजबूर

फैक्ट्रियों से निकलने वाले क्रोमियम से आज भी दूषित पानी पीने को लोग हुए मजबू

👉🏻एनजीटी की छै फैक्ट्रियी पर करोड़ो की कार्यवाही से गांव के लोगो मे खुशी की लहर

✍🏻कानपुर:  एनजीटी ने सख्त तेवर दिखाते हुए कानपुर देहात की 6 फैक्ट्रियों पर 280 करोड़ का जुर्माना लगाया है ये वो फैक्ट्रियां है जिनसे निकला हुआ दूषित क्रोमियम युक्त कचरा काल बन गया आज भी पूरे क्षेत्र में पानी पीला आता है दूषित पानी की वजह से गांव के तमाम लोग बीमारी से ग्रसित है कुछ लोग तो गांव से पलायन कर गए तो कुछ लोगो की मौत का कारण ये दूषित पानी बन गया वही आज एनजीटी की कार्यवाही से पूरा गांव खुश है

  👉🏻कानपुर देहात के रानिया इलाके के खानचंद्रपुर गांव से सटी 6 फैक्ट्रियों है चांदनी कैमिकल , हिलजर केमिकल ,अम्लीय टेक्स्टाइल , शेरलीन केमिकल , वारिस केमिकल ओर रुक्मणि है जिसमे अकबरपुर रानिया से बीजेपी विधायिका प्रतिभा शुक्ला की वारिस केमिकल भी शामिल है साथ ही प्रदूषण नियन्त्रण बोर्ड पर भी एक करोड़ का जुर्माना लगाया है

  👉🏻अब जरा एनजीटी द्वारा की गयी कार्यवाही की वजह भी सुन लीजिए दरअसल ये सभी फैक्ट्रियां रानिया के खानचंद्रपुर गांव के पास लगी थी और इन फैक्ट्रियों से निकलने वाला क्रोमियम सेल्फेड ( ज़हरीला कैमिकल ) गांव के पास ही फेका गया इतनी भारी मात्रा में क्रोमियम फेका गया गया और ज़हरीला क्रोमियम सेल्फेड ज़मीन की निचली सतह में पहुच गया लिहाज़ा उसने पानी को दूषित कर दिया पानी का रंग पीला हो गया लोग दूषित पानी पीकर बीमार होने लगे चर्म रोग पेट मे दर्द सीने में इंफेक्शन जैसी गंभीर बीमारियों का कारण यही फैक्ट्रियां थी फैसले चौपट हो गयी ज़मीन बंजर दिखने लगी जानवर बीमारी से मर गए दूषित पानी की वजह से तमाम लोग घर छोड़ कर पलायन कर गए और कुछ लोगो की तो जान भी चली गयी

  👉🏻अधिकारियों से दूषित पानी की शिकायत तमाम बार की गयी गांव में अधिकारियो का दौरा हुआ लेकिन नतीजा सिफर निकला ग्रामीण लगभग 20 से दूषित पानी पीने पर मजबूर है वही एनजीटी द्वारा दोषी 6 फैक्ट्रियों पर 280 करोड़ के जुर्माने की कार्यवाही से ग्रामीण खुश है अब उन्हें ये आस है कि शायद अब उन्हें दूषित पानी से निजाद मिल जाए हालांकि जिन फैक्ट्रियों पर कार्यवाही हुयी है वो फैक्ट्रियां 2005 में ही बंद करा दी गयी थी लेकिन उनसे इतनी भारी तादाद में क्रोमियम सल्फेड निकाल कर खानचंद्रपुर गांव में फेंक दिया गया जो आज भी पानी की निचली सतह में जज़्ब है और आज भी यहां ज़मीन से दूषित पानी ही निकल रहा है

कानपुर देहात से मनोज कुमार सिंह soni news

Content Protection by DMCA.com

ये भी पढ़ें :

यूपी में हाई टेक हुए सूचना अधिकारी

Ajay Swarnkar

Lucknow-पुलिस की व्यवस्था को दुरुस्त करने के सरकार दावे खोखले हुए साबित

Ajay Swarnkar

जालौन:भूसा घर में मिला वृद्धा का शव

Ajay Swarnkar

अपना कमेंट दें

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.