सोनी न्यूज़
क्राइम जालौन

नींव की खुदाई में मजदूरों को मिले चांदी के सिक्के व कडे़,पुरातत्व विभाग की निगरानी में कोषागार में जमा

0 प्रशासन ने गांव में पहुंचकर चांदी सिक्के व कड़े लिए कब्जे में
0 279 चांदी के सिक्के व चार कड़े मिले ,जिसमें दो सफेद धातु व दो तांबे के
उरई (जालौन)। उरई तहसील क्षेत्र के ग्राम व्यासपुरा में बीती शाम जब गृहस्वामी दिनेश कुशवाहा अपने मकान का निर्माण कराने के लिये मजदूरों से खुदाई करा रहे थे उसी दौरान जमीन से एक भारी संख्या में चांदी के सिक्के व चार कड़े मिलने की खबर पूरे गांव ही नहीं आसपास के गांवांे में जंगल में लगी आग की तरह फैल गयी। मामले की जानकारी मिलते ही एसडीएम सदर व कोतवाल जालौन गांव में पहुंचे जहां सभी चांदी सिक्कों व चारों कड़ों को अपने कब्जे में लेकर पुरातत्व विभाग की निगरानी में कोषागार में जमा करा दिये गये। इसके साथ ही मकान निर्माण के लिये नींव खुदाई पर भी रोक लगा दी गयी हैं।


मिली जानकारी के अनुसार ग्राम पंचायत बरहा के मजरा व्यासपुरा निवासी दिनेश कुशवाहा पुत्र रघुनंदन लाल शुक्रवार की शाम अपना प्रधानमंत्री आवास निर्माण के लिये नींव की खुदाई मजदूरों से करवा रहे थे उसी दौरान एक मजदूर ने दिनेश कुशवाहा को बताया कि नींव खुदाई में मिट्टी का घड़ा दिखायी दे रहा था इसके बाद दोनों मौके पर पहुंचे जहां दिनेश ने अपने सामने खुदाई शुरू करायी और कुछ ही देर में खुदाई दौरान मिट्टी का घड़ा फूट गया और चांदी के सिक्के मिट्टी में बिखर गये। यह नजारा देखकर मजदूर व दिनेश कुशवाहा हक्के बक्के रह गये। जब तक दोनों चांदी के सिक्कों के बारे में कुछ सोच पाते पूरे गांव में यह खबर फैल गयी कि दिनेश कुशवाहा के मकान में खुदाई के दौरान खजाना निकला है इसके बाद मौके पर ग्रामीणों की भारी भीड़ जमा होनी शुरू हो गयी। तभी किसी ने मकान खुदाई के दौरान चांदी के सिक्के मिलने की जानकारी जालौन कोतवाली पुलिस को दी तो तत्काल जालौन कोतवाल पुलिस बल के साथ गांव में पहुंचे उसी दौरान सदर एसडीएम राजेश सिंह भी गांव में पहुंचे जहां उन्होंने मकान की नींव खुदाई मंे मिले सभी सिक्के व कड़े अपने कब्जे में ले लिये। जब उक्त संबंध में एसडीएम सदर राजेश सिंह से जानकारी चाही तो उन्होंने बताया कि दिनेश कुशवाहा के नाम प्रधानमंत्री आवास स्वीकृत हुआ था जिसके निर्माण के लिये वह नींव की खुदाई करा रहा था जहां 279 चांदी के सिक्के व चार कड़े मिले है जिसमें दो सफेद धातु व दो तांबे के है। उन्होंने बताया कि जमीन से मिले चांदी के सभी सिक्कों व चारों कड़ों को पुरातत्व विभाग की निगरानी में जिला कोषागार में जमा करा दिये गये हैं। उन्होंने यह भी बताया कि चांदी के सभी सिक्के विक्टोरिया शासनकाल के है जो 161 वर्ष पुराने हैं। उन्होंने यह भी बताया कि हाल फिलहाल दिनेश कुशवाहा से नींव खुदाई का कार्य न कराये जाने के भी निर्देश दिये गये हैं।

ये भी पढ़ें :

जालौन-छात्रों को निशुल्क शिक्षा देकर उन्हें समाज की मुख्य धरा में लाना ही मुख्य उद्देश्य :आशीष

AMIT KUMAR

कोंच की 167 वर्ष पुरानी परंपरा रावण दहन और दशहरा जोर शोर से मनाया गया।

Ajay Swarnkar

उप स्वास्थ्य केंद्र बना प्रचार प्रसार व विज्ञापन का केंद्र

Lavkesh Singh

अपना कमेंट दें

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.