सोनी न्यूज़
उत्तर प्रदेश जालौन

कालपी की पहचान यमुना नदी का अस्तित्व खतरे में, तट पर रहता गंदगी का अम्बार

*

जनपद जालौन की यमुना तट पर स्थित ऐतिहासिक नगरी कालपी का गौरव बढ़ाने वाली यमुना नदी का अस्तित्व गिरता जा रहा है लोगों की धार्मिक आस्था विलुप्त होती जा रहीं है आज लोगों ने यमुना नदी को कूड़ा फेकने का स्थान बना लिया है। यमुना नदी के बिहारी घाट पर हालात ये हैं कि नदी के किनारों पर जमा कचरा इतना बदबूदार हो गया है कि इस तट पर लोग घूमने तो दूर बैठना भी पसंद नहीं करते हैं। घाट पर स्थित बिहारी जी के मन्दिर में बैठे कुछ नगर समाजसेवियों ने बताया कि नदी किनारे सबसे ज्यादा गंदगी तब फैलती है । जब शमशान घाट पर पार्थिव शरीर को मुखाग्नि देने के लिये नगर पालिका द्वारा स्थान सुनिश्चित होने पर भी लोग पार्थिव शरीर को कहीं भी किनारे पर जगह देख मुखाग्नि देते नजर आते हैं। इलेक्ट्रिक शमशान घाट की बात रखते हुए लोगों ने ध्यान इंगित किया है कि आला अधिकारी इस पर ध्यान नहीं देते तो समस्या बहुत गंभीर होगी। यमुना तट पर सफाई कराते हुए सौंदयीकरण के रूप में पेड़ पौधों आदि को लगाया जाय जिससे यमुना के गिरते जल स्तर को स्थिर कर नदी व नदी पर निर्भर मानव जीवन का अस्तित्व बचाया जा सके।
रिपोर्ट:जनपद जालौन के कुठौंद से soni news के लिए लवकेश सिंह*

Content Protection by DMCA.com

ये भी पढ़ें :

हरदोई :बीजेपी विधायक ने अपनी निधि मांगी वापस….

Ajay Swarnkar

गेंहू काट रहे माता पिता का बुझा इकलौता चिराग, घर में आग लगने से दो बच्चों की मौत

ashish knp

जालौन-जमाखोरी के चलते ऊँचे दामों में बेंचा जा रहा गुटखा।

AMIT KUMAR

अपना कमेंट दें

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.