सोनी न्यूज़
प्रचार
  • राजधानी लखनऊ में शुभ अवसरों पर विज्ञापन एवं बधाई सन्देश देने के लिए सम्पर्क करे-8299589254 निखिल श्रीवास्तव संवाददाता–लखनऊ,पूरे उत्तर प्रदेश में शुभ अवसरों पर विज्ञापन एवं बधाई सन्देश देने के लिए सम्पर्क करे-9415596496 -9935930825 -पूरे बुन्देलखण्ड शुभ अवसरों पर विज्ञापन एवं बधाई सन्देश देने के लिए सम्पर्क करे-अशफाक अहमद बुन्देलखण्ड व्यूरो-मो-9838580073 -जनपद जालौन में शुभ अवसरों पर विज्ञापन एवं बधाई सन्देश देने के लिए सम्पर्क करे-रंजीत सिंह-मो-8423229874,श्यामजी सोनी मो-9839155683,अमित कुमार मो-7526086812,जनपद झाँसी में शुभ अवसरों पर विज्ञापन एवं बधाई सन्देश देने के लिए सम्पर्क करे-अरुण वर्मा मो-9455650524-जनपद आजमगढ़ में शुभ अवसरों पर विज्ञापन एवं बधाई सन्देश देने के लिए सम्पर्क करे-रामानुजाचार्य त्रिपाठी मो-9452171219-जनपद कानपुर देहात में शुभ अवसरों पर विज्ञापन एवं बधाई सन्देश देने के लिए सम्पर्क करे-मनोज कुमार सिंह मो-9616891028-
उत्तर प्रदेश

कानपुर देहात-महिला की हत्याकर शव को कमरे में 5 फुट नीचे दफना दिया

यूपी के जनपद कानपुर देहात में आज उस समय सनसनी फैल गई…… जब जमीनी विवाद के चलते दूसरे पति और पुत्र ने महिला की हत्याकर शव को कमरे में 5 फुट नीचे दफना दिया। घटना की खुलासा महिला की पुत्री के आने के बाद हुआ…… पुत्री की सूचना पर मौके पर पहुची पुलिस आलाधिकारी पुलिस बल के साथ मौके पर पहुचे……… पुलिस ने शव को गड्ढे से बाहर निकालने के साथ ही महिला के पति , पुत्र और बहु के खिलाफ मामला दर्जकर जांच शुरू कर दी हैं। महिला की पुत्री ने सौतेले पिता , भाई और भाभी सहित 4 लोगो पर जमीन के विवाद के चलते हत्या करने का आरोप लगाया हैं। वहीं पुलिस की गिरफत में आया हत्या का एक आरोपी चकमा देकर मौके से फरार हो गया।

मामला हैं कानपुर देहात के सिकन्दरा थाना क्षेत्र के कस्बा सिकन्दरा के मालवीय नगर मोहाल की। जहां सरोज पाल की जमीनी विवाद के चलते उसके दूसरे पति पतरौल, पुत्र मानसिंह और बहु सीमा ने हत्याकर शव को मकान के कमरे में 5 फुट नीचे दफन कर दिया……. जिसका खुलासा सरोज पाल की पुत्री सुधा के आने के बाद हुआ…….. दरअसल मूसानगर के साखा जनवारा की रहने वाली सरोज पाल की पहली शादी भोगनीपुर के करियापुर गांव निवासी कृपाशंकर के साथ हुई थी। जिससे उसकी एक पुत्री सुधा हुई……. लेकिन सुधा के 5 साल होने पर किसी विवाद के चलते सरोज और कृपाशंकर का तलाक हो गया। जिसके बाद सरोज से सिकन्दरा थाना क्षेत्र के कस्बा सिकन्दरा के मालवीय नगर मोहाल निवासी पतरौल से दूसरी शादी कर ली…….. वहीं दूसरी शादी के समय सरोज के पिता ने उसको सिकन्दरा में एक मकान दिलवा दिया। सरोज ने उस मकान को अपनी पुत्री सुधा को देने का फैसला कर दिया। लेकिन सरोज के दूसरे पति पतरौल, पुत्र मानसिंह और बहु सीमा को यह बात न गवार गुजरी और सरोज को मौत के घाट उतार दिया। यहीं नहीं सरोज की हत्या कर उसका शव उसी मकान के कमरे के अन्दर 5 फुट गहरे गड्ढे में दफन कर दिया और सरोज के मायके जाने की खबर फैला दी…….. वहीं किसी को शक न हो इसके लिए उस गड्ढे के उपर आलू का ढेर फैलाकर तखत और पंलग बिछा दिया…….. इसका खुलासा सरोज की पुत्री सुधा के आने के बाद हुआ………. पुलिस और परिजनों की मद्द से सुधा ने अपनी मां सरोज का शव गड्ढे से खोदकर बनाकर निकला….

सरोज की पुत्री सुधा की माने तो सौतेले पिता पतरौल, भाई मानसिंह और भाभी सीमा अक्सर मकान को लेकर मां सरोज से झगड़ा किया करते थे और मारपीट भी किया करते थे…… जिससे तंग आकर मां सरोज उसके पास आ गई…….. लेकिन सौतेले पिता और भाई ने मां सरोज को बहला कर वापस घर ले आये और यहां आकर हत्या कर दी……. वहीं मृतिका की पुत्री सरोज ने पुलिस की कार्यवाही पर सवाल उठाते हुए…. एक हत्यारोपी को फरार कराने का आरोप भी लगाया…. – सुधा (मृतिका की पुत्री)

वहीं मृतिका सरोज के पड़ोसी ने भी मकान पुत्री को लिखवाने के चलते सरोज और पतरौल में अक्सर विवाद होने की बात कही…….. साथ ही इसी विवाद के चलते मृतिका सरोज की हत्या करने की भी बात कही………….- घोसीराम (पड़ोसी)

वहीं महिला की हत्या कर शव को गड्ढे में दफना देने की सूचना पर पुलिस आलाधिकारी मौके पर पहुचे और शव को गड्ढे से खोदकर बाहर निकाला….. पुलिस आलाधिकारियों की माने तो मृतिका सरोज की पुत्री की तहरीर पर महिला के पति, पुत्र और बहु सहित 4 लोगो के खिलाफ मामला दर्जकर कार्यवाही शुरू कर दी हैं। वहीं पुलिस एक हत्यारोपी को गिरफतार करने का दावा भी कर रही हैं…..
आलोक जयसवाल (सीओ सिकन्दरा कानपुर देहात)
सोनी न्यूज़ के लिए कानपुर देहात से मनोज सिंह

Content Protection by DMCA.com

ये भी पढ़ें :

KANPUR करोड़ो हेराफरी पर मनटोरा ग्रुप की सभी फैक्ट्रियों पर छापा

Ajay Soni

कालपी-दोहरे हत्याकांड से थर्राया शहर।

Ajay Soni

Jhansi-कुंज वाटिका विवाह घर में चोरी करते लड़के cc कैमरे में हुए कैद

Ajay Soni

अपना कमेंट दें

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.