सोनी न्यूज़
उत्तर प्रदेश धर्म

मुख्यमंत्री करेंगे कन्या पूजन, विजय शोभायात्रा में शामिल होंगे

 

गोरखपुर। शारदीय नवरात्र में 9 दिन के व्रत का पारायण मुख्यमंत्री श्री योगी आदित्यनाथ रविवार को कन्या एवं बटुक भैरव पूजन एवं कन्या भोज के बाद करेंगे। उसके बाद अपराह्न विजयदशमी विजय शोभायात्रा में शामिल होंगे। मानसरोवर मंदिर में देव विग्रहों का पूजन एवं अभिषेक के बाद मानसरोवर रामलीला के मंच में प्रभु श्रीराम के राजतिलक समारोह में शामिल होकर श्रद्धालुओं को संबोधित करेंगे।
कोविड-19 के संक्रमण के दौर में इस बार गोरखनाथ मंदिर में यह कार्यक्रम पारम्परिक रूप से संक्रमण रोकने के प्रावधानों के अंतर्गत होगा। गोरखनाथ मंदिर में शनिवार को मुख्यमंत्री की तमाम व्यस्तताओं के बीच पूरे दिन कन्या पूजन एवं विजयादशमी शोभायात्रा समेत अन्य अनुष्ठान की तैयारियां चलती रहीं। रविवार को 12 बजे के करीब गोरखनाथ मंदिर में कन्या एवं बटुक भैरव का पूजन हर बार की तरह मंदिर के प्रथम तल पर शुरू होगा। कन्या एवं बटुक भैरव का पूजन, दक्षिणा एवं उपहार देने के बाद स्वयं योगी आदित्यनाथ श्रद्धाभाव से भोजन परोसेंगे। इसके पूर्व मुख्यमंत्री श्री योगी रविवार की सुबह मठ के प्रथम तल स्थित शक्ति मंदिर में मॉ भगवती की अराधना कर भोग लगाएंगे। यहां दुर्गा सप्तशति का पाठ भी होगा। उसके बाद सभी देव विग्रहों का पूजन एवं समाधि पर आशीर्वाद लेंगे। उसके बाद गोशाला में गाय का पूजन कर गोसेवा करेंगे। कन्या पूजन समारोह में शामिल होने के लिए अयोध्या, वाराणसी, दिल्ली समेत काई स्थानों से संत महात्मा मंदिर में प्रवास कर रहे हैं।

श्रद्धाभाव से होगा श्रीनाथ जी का विशेष पूजन
मुख्य मंदिर में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ श्रद्धा के साथ रविवार की सुबह 9 बजे श्रीनाथ जी का पूजन करेंगे। गोरक्षपीठाधीश्वर आदित्यनाथ, नाथ संप्रदाय के गोरक्षपीठ के विशेष परिधान में पूजन में करेंगे। ढोल, घड़ी, घंट, नगाड़ा, नागफनी एवं शंख की मंगल ध्वनियों के बीच श्रीनाथ जी (गुरु गोरखनाथ) का पूजन करेंगे। इस पूजन में मंदिर के सभी पुरोहित, सभी पुजारी एवं शिष्य भी शामिल होंगे। उसके बाद सीएम पुन: शक्ति मंदिर में मॉ भगवती का पूजन कर कन्या पूजन के अनुष्ठान को सम्पन्न करेंगे।

तिलकोत्सव में मिलेगा योगी जी का आशीर्वाद
गोरखनाथ मंदिर के तिलक हाल में परम्परागत रूप से विजयादशमी पर आयोजित होने वाला तिलकोत्सव कार्यक्रम सम्पन्न होगा। इस कार्यक्रम में मंदिर के योगी, महंत, पुजारी, पुरोहित एवं चुनिंदा श्रद्धालु शामिल होंगे। कोविड 19 संक्रमण के कारण इस कार्यक्रम में इस बार काफी कम लोग शामिल हो पाएंगे। यह कार्यक्रम एक बजे से 3 बजे तक आयोजित होगा।


चार बजे निकलेगी विजयादशमी की विजय शोभायात्रा
तिलकोत्सव के पश्चात अपराह्न चार बजे गोरक्षपीठ परंपरागत विजय शोभा यात्रा भी निकलेगी। श्रीनाथ जी का आशीर्वाद लेने के बाद मुख्यमंत्री वाहन में सवार होकर मानसरोवर रामलीला मैदान पहुंचेंगे। सबसे पहले श्रीराम सरोवर मंदिर में रामदरबार, भगवान शंकर दरबार एवं राधा कृष्ण मंदिर में पूजन कर अभिषेक करेंगे। उसके बाद मानसरोवर रामलीला मैदान पहुंचेंगे। मर्यादा पुरुषोत्तम राजाराम के राजतिलक में श्रद्धालुओं को संबोधित करने के बाद सीएम गोरखनाथ मंदिर लौट आएंगे। मंदिर में इस दौरान भण्डारा भी आयोजित होगा। शोभायात्रा में ज्यादा भीड़ नहीं होगी। इसलिए सुरक्षा के कड़े इंतजाम किए गए हैं। गोरखनाथ मंदिर के मीडिया प्रभारी विनय गौतम ने बताया कि सभी कार्यक्रमों में सीमित संख्या में ही लोगों को शामिल होने की अनुमति होगी। कार्यक्रमों के सजीव प्रसारण किया जाएगा ताकि लोग मंदिर के फेसबुक पेज और यू-ट्यूब चैनल पर सभी कार्यक्रमों का सीधा प्रसारण देख सकें।

शोभायात्रा का मुस्लिम समाज के लोग करेंगे स्वागत
परम्परागत रूप से गोरक्षपीठाधीश्वर की विजयादशमी पर निकलने वाली विजयशोभायात्रा का चौधरी कैफुल वरा की अगुवाई में मुस्लिम समाज और बुनकर समाज की ओर से स्वागत किया जाएगा। चौधरी परिवार को शनिवार को शोभायात्रा के स्वागत कार्यक्रम की तैयारियों में जुटा रहा।

Content Protection by DMCA.com

ये भी पढ़ें :

उरई-दीपशिखा के सामने करंट लगने से एक की मौत

Ajay Swarnkar

ना भूले हैं ना माफ करेंगे खून के बदले खून करेंगे पाकिस्तान तुम्हें हम बर्बाद करेंगे

Ajay Swarnkar

लखनऊ-UPSSSC के अभ्यर्थियों का लखनऊ में जमावड़ा।

Ajay Swarnkar

अपना कमेंट दें

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.