प्रचार
  • पूरे उत्तर प्रदेश में शुभ अवसरों पर विज्ञापन एवं बधाई सन्देश देने के लिए सम्पर्क करे-9415596496 -9935930825 -पूरे बुन्देलखण्ड शुभ अवसरों पर विज्ञापन एवं बधाई सन्देश देने के लिए सम्पर्क करे-अशफाक अहमद बुन्देलखण्ड व्यूरो-मो-9838580073 -जनपद जालौन में शुभ अवसरों पर विज्ञापन एवं बधाई सन्देश देने के लिए सम्पर्क करे-रंजीत सिंह-मो-8423229874,श्यामजी सोनी मो-9839155683,अमित कुमार मो-7526086812,जनपद झाँसी में शुभ अवसरों पर विज्ञापन एवं बधाई सन्देश देने के लिए सम्पर्क करे-अरुण वर्मा मो-9455650524-जनपद आजमगढ़ में शुभ अवसरों पर विज्ञापन एवं बधाई सन्देश देने के लिए सम्पर्क करे-रामानुजाचार्य त्रिपाठी मो-9452171219-जनपद कानपुर देहात में शुभ अवसरों पर विज्ञापन एवं बधाई सन्देश देने के लिए सम्पर्क करे-मनोज कुमार सिंह मो-9616891028-
उत्तर प्रदेश क्राइम वीडियोस

सीएम के शहर में पुलिस के उपेक्षा का शिकार हो रहा एक सैनिक

सीएम के शहर के गोरखनाथ थाना के पुलिस के उपेक्षा का शिकार एक सैनिक का परिवार हो रहा है। जम्मू कश्मीर के श्रीनगर में नायक के पद पर कार्यरत जवान का होली उस वक़्त फीकी हो गयी जब उसके दो बेटियों को लापरवाही से स्कार्पियो चला रहा चालक ने पीछे से जोरदार टक्कर मारते हुए फरार हो गया। वंही घटना का वीडियो सामने आने के चार दिन बाद भी स्कार्पियो व चालक पुलिस की पहुंच से दूर है। फिलहाल दोनों बेटियों का इलाज एयरफोर्स हॉस्पिटल गोरखपुर में चल रहा है । जंहा पर दोनों की हालत चिंताजनक बनी हुई है।

जानकारी के अनुसार गोरखनाथ थाना अंतर्गत लक्षिपुर शान्तिपुरम निवासी चन्द्रशेखर मल्ल जम्मूकश्मीर के श्रीनगर में नायक के पद पर सेना में कार्यरत हैं। विगत 21 मार्च की शाम तकरीबन 5 बजे श्री मल्ल की दोनों बेटियां नेहा व निधि समान लेने पास के ही मार्केट में जा रही थी। अभी वो अपने घर वाले रोड से मुख्य मार्ग पर मुड़ने ही वाली थीं कि पीछे से तेज लापरवाही से स्कार्पियो चालक ने ठोकर मार दिया। ठोकर इतना जोरदार था कि दोनों बेटियां हवा में लगभग छः फीट तक उछल गयी और दूर जा कर सड़क के किनारे गिर गईं। जिससे दोनों को गम्भीर चोट आया है। स्थानीय लोग घटना देख बेटियों को संभाले और परिजनों को सूचना दिया। वंही उधर स्कार्पियो चालक गाड़ी सहित भाग निकला। घटना के बाद सैनिक के परिवार में मातम फैल गया और होली का रंग फीका हो गया।

परिजनों का कहना है कि दोनों बच्चियों का इलाज एयरफोर्स हॉस्पिटल में कराया जा रहा है और स्थिति चिंताजनक बनी हुई है। बेटियों के पिता सेना में कार्यरत होने के बावजूद मुकामी पुलिस ने तीन बार तहरीर बदलवाया फिर जा करके अपने मुताबिक तहरीर लिखवा कर मुकदमा पंजीकृत किया । उधर घटना का सीसीटीवी फुटेज सामने आने के बाद भी गोरखनाथ थाने की पुलिस सफेद रंग की स्कार्पियो व चालक को घटना के 4 दिन बाद भी पता लगाने में नाकाम रही है। परिजनों का कहना है कि जब एक सैनिक के साथ सीएम के शहर में पुलिस ऐसा बर्ताव कर रही है तो आमजन के साथ क्या कर रही होगी ? इसका आसानी से अंदाजा लगाया जा सकता है।

ये भी पढ़ें :

जालौन-एसिड की खुली बिक्री के विरोध में जन मिलन केंद्र में गोष्ठी

Ajay Soni

मेरठ-गैस सिलेंडरो मे आग लगने से हुआ बड़ा हादसा

Ajay Soni

उरई नगर पालिका परिषद मैं एक बार फिर चले लात घूंसे।

Ajay Soni

अपना कमेंट दें

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.