प्रचार
  • पूरे उत्तर प्रदेश में शुभ अवसरों पर विज्ञापन एवं बधाई सन्देश देने के लिए सम्पर्क करे-9415596496 -9935930825 -पूरे बुन्देलखण्ड शुभ अवसरों पर विज्ञापन एवं बधाई सन्देश देने के लिए सम्पर्क करे-अशफाक अहमद बुन्देलखण्ड व्यूरो-मो-9838580073 -जनपद जालौन में शुभ अवसरों पर विज्ञापन एवं बधाई सन्देश देने के लिए सम्पर्क करे-रंजीत सिंह-मो-8423229874,श्यामजी सोनी मो-9839155683,अमित कुमार मो-7526086812,जनपद झाँसी में शुभ अवसरों पर विज्ञापन एवं बधाई सन्देश देने के लिए सम्पर्क करे-रवि साहू मो-9838626183अरुण वर्मा मो-9455650524
  •  
महाराष्ट्र

सात भाषाओ में गाने वाली आवाज ने दुनिया को कहा अलविदा

मुम्बई/नालासोपारा- आज लोक संगीत के प्रेमियों के लिए दर्दनाक दिन साबित हुआ दरसल जब सुबह लोगो को पता चला की रेडियो सिंगर/स्टेज सिंगर श्री मती अरुमा शंकर गुप्ता का देहान्त हो गया है तो उनके चाहने वाले सतके में आ गए और सभी में शोक की लहर छा गयी,और फिर उनके घर पर लोगो का ताता लग गया ताकि उनके अंतिम संस्कार में उनके फैन शामिल हो सके
दरसल सिंगर अरुमा शंकर गुप्ता काफी दिनों से कैंसर जैसी खतरनाक बीमारी से विगत दो वर्षो से पीड़ित चल रही थी और वो आज सुबह करीब सात बजे के करीब वो अपनी जिंदगी की जंग हार गयी और अपने सभी संगीत प्रेमियों को अलविदा कह दिया और अपने पीछे १२ वर्षीय बेटी दिव्यांशी को छोड़ गयी इस खबर से उनके फैन उनके अंतिम दर्शन के लिए उनके घर पहच गए उनकी अंतिम यात्रा कई बड़ी हस्तिया भी शामिल हुयी उनके पार्थिव शरीर को उनके पति आर एस गुप्ता ने मुखाग्नि दे कर उनको विदाई दी
                                                       

                                                                                

                                                        -सात भाषाओ में करती थी गायन गए सैकड़ो गीत-


शुरुआत में गायिका अरुमा शंकर गुप्ता आकाशवाणी ग्वालियर से बुंदेली लोक गीत गया करती थी और बी हाई ग्रेट की सिंगर रही साथी टी सीरीज और कन्हैया कैसेट में भी दर्जनों गीत गए उन्हें बचपन से ही संगीत का शौक था उन्होंने संगीत से ऍम ऐ किया था फिर उन्होंने आकाशवाणी ग्वालियर के लिए पांच वर्ष गीत गाये फिर वर्ष 2005 में मुम्बई माया नगरी आयी और फिर धीरे धीरे उन्होंने भोजपुरी सिंगर के रूपमे अपने आपको स्थापित किया और खास बात ये भी है कि वो भाषाओ जैसे बुंदेली,भोजपुरी,राजस्थानी,हिंदी,मराठी,बंगाली,गुजरती भाषाओ में भी गायन करती थी

                                                                         -ऐसे पड़ा उनका नाम अरुमा-


जब सिंगर अरुमा शंकर गुप्ता मुंबई आयी तो कुछ दिन बाद उनके गुरु स्वर्गीय गीतेश दुवेदी उनसे मिलने मुंबई आये और उन्होंने ही उन्हें एक नया नाम दिया अरुमा और फिर धीर धीरे इसी नाम से उनकी पहचान बन गयी और उनके चाहने वाले उन्हें इसी नाम से पुकारने लगे

ये भी पढ़ें :

मुम्बई मशहूर मॉडल और एक्ट्रेस गहना वशिष्ट के दो सॉन्ग हुए लांच

Ajay Soni

राम जन्मभूमि फिल्म यूट्यूब पर हुई रिलीज हाईकोर्ट ने दी अनुमति।

Ajay Soni

 “बगल वाली जान मारेली” का मुहूर्त संपन्न ।

Ajay Soni

अपना कमेंट दें

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.