देखे कैसे घोड़े पर सवार होकर दूल्हा आया प्रत्यशी बन कर नामांकन करने

लोकसभा चुनाव मे प्रत्याशी अनोखे ढंग से नामांकन कराकर अपना प्रचार प्रसार करने लगे है। कहीं ऊंट पर बैठकर तो कोई भैसा गाड़ी पर बैठकर नामांकन करा रहा है लेकिन शाहजहांपुर में एक अनोखे ढंग से नामांकन किया गया यहां लोकसभा प्रत्याशी ने दूल्हा बनकर नामांकन कराया चौंकाने वाली बात है कि नामांकर से पहले उसने पूरे शहर में बारात निकाली जहां उसने बारातियो के साथ जमकर डांस किया। इस अनोखे ढंग से नामांकन पूरे शहर में चर्चा का विषय बन गया है। दूल्हा बनकर बैंड बाजे के साथ घोड़े पे सवार यह दूल्हा नहीं है बल्कि वह प्रत्याशी हैं जिन्हें आज नामांकन करना है लेकिन आज वह सज धज कर घोड़ी पर सवार होकर शहर में निकल पड़े हैं। बैंड बाजे के साथ पूरे शहर में धमाल मचाने वाले यह बैधराज किशन है। दूल्हा बनकर हाथ जोड़कर वोट मांगने बाले किशन को संयुक्त विकास पार्टी का प्रत्याशी बनाया गया है।

उनका कहना है कि मैं राजनीति में का दामाद बन कर आया हूं। बैध राजकिशन जो अपने अनोखे ढंग से नामांकन हमेशा से च्चा मे रहे है। कभी अर्थी बनाकर खुद को नामांकन के लिए तैयार किया तो कभी भैंसा गाड़ी पर बैठ कर नामांकन किया अब उन्होंने राजनीति का दामाद बनकर नामांकन कराया है। उनका कहना है कि आज ही के दिन उनकी बारात हुई थी और इस शादी की सालगिरह पर हो जश्न मना कर नामांकन करा रहे है।वह यदि चुनाव में जीते हैं तो वह बच्चों को रोजगार देंगे।

किशन,संयुक्त विकास पार्टी का प्रत्याशी बैधराज किशन जनपद शाहजहांपुर के जाने-माने कलाकार रहे हैं उन्होंने अपनी आवाजों के जरिए कई फिल्मी कलाकारों की मिमिक्री है जब भी कोई बड़ी घटना होती है तो वह घंटाघर पर अनशन या हड़ताल के लिए दिखाई पड़ते हैं। नेता बने किशन ने पिछले 3 दशकों से कोई भी चुनाव नहीं छोड़ा है यहां तक कि वह राष्ट्रपति का भी चुनाव के लिए आवेदन कर चुके हैं ऐसे में बैंड बाजे के साथ नामांकन का यह अनोखा तरीका शाहजहांपुर के लिए चर्चा का विषय बना गया है।

Related Posts

News Reporter Details

Add Comment

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.