प्रचार
  • पूरे उत्तर प्रदेश में शुभ अवसरों पर विज्ञापन एवं बधाई सन्देश देने के लिए सम्पर्क करे-9415596496 -9935930825 -पूरे बुन्देलखण्ड शुभ अवसरों पर विज्ञापन एवं बधाई सन्देश देने के लिए सम्पर्क करे-अशफाक अहमद बुन्देलखण्ड व्यूरो-मो-9838580073 -जनपद जालौन में शुभ अवसरों पर विज्ञापन एवं बधाई सन्देश देने के लिए सम्पर्क करे-रंजीत सिंह-मो-8423229874,श्यामजी सोनी मो-9839155683,अमित कुमार मो-7526086812,जनपद झाँसी में शुभ अवसरों पर विज्ञापन एवं बधाई सन्देश देने के लिए सम्पर्क करे-रवि साहू मो-9838626183अरुण वर्मा मो-9455650524
  •  
उत्तर प्रदेश पॉलिटिक्स वीडियोस

हनुमान सेतु मंदिर में सीएम योगी हनुमान जी के दर्शन के लिए पहुंचे

लखनऊ से बड़ी खबर हनुमान सेतु मंदिर में सीएम योगी हनुमान जी के दर्शन के लिए पहुंचे,भाजपा कार्यकर्ताओं ने खुलेआम आचार संहिता का उल्लंघन करते हुए झंडे लहराये _

लखनऊ । राजधानी लखनऊ के हनुमान सेतु मंदिर में सीएम योगी सुबह करीब 9 बजे हनुमान मंदिर दर्शन के लिए पहुंचे । वह करीब 15 मिनट तक मंदिर में रुके और इस दौरान उन्होंने हनुमान चालीसा का पाठ भी किया । सीएम योगी के बयान पर चुनाव आयोग ने प्रतिबंध लगा रखा है । हालांकि उनके प्रतिबंध में मंदिर में जाना शामिल नहीं है । साथ ही बताते चलें कि सीएम योगी के हनुमान मंदिर पहुंचने को लेकर भाजपा कार्यकर्ताओं द्वारा खुलेआम आचार संहिता का उल्लंघन करते हुए काफी संख्या में काफिले के साथ झंडे लहराते नजर आए ।_

_आपको बता दें कि चुनाव आयोग ने आखिरकार आदर्श चुनाव आचार संहिता उल्लंघन मामलों में बड़ी कार्रवाई की है । सोमवार को आयोग ने योगी आदित्यनाथ पर तीन दिन चुनाव प्रचार करने पर रोक लगा दी है । आयोग ने गहरी नाराजगी भी जाहिर की है । यह रोक आज सुबह छह बजे से शुरू होगी । चुनाव आयोग ने कहा मेरठ की रैली में आदित्यनाथ द्वारा की गई अली और बजरंग बली की टिप्पणी जाहिर तौर पर उचित नहीं है । योगी ने मेरठ की रैली में कहा था कि यदि सपा-बसपा गठबंधन को अली पर भरोसा है तो उन्हें बजरंग बली पर भरोसा है ।_

_चुनाव आयोग ने योगी के बयान को सीधे तौर पर एमसीसी का उल्लंघन माना । आयोग ने कहा एक राज्य का मुख्यमंत्री होने के नाते योगी पर धर्म निरपेक्ष मूल्यों के अतिरिक्त सभी के मूल नैतिक अधिकारों को बनाए रखने की जिम्मेदारी है । रैली में उनकी टिप्पणियों ने सार्वजनिक मर्यादा का उल्लंघन किया है । जो खुले तौर पर वोटों के ध्रुवीकरण की कोशिश कही जा सकती है । आयोग द्वारा जारी किए गए कारण बताओ नोटिस का जवाब देते हुए योगी आदित्यनाथ ने कहा था कि उनकी अली और बजरंग बली टिप्पणी मायावती की देवबंद में मुस्लिम मतदाताओं की अपील के जवाब में दी गई थी ।_

ये भी पढ़ें :

KANPUR करोड़ो हेराफरी पर मनटोरा ग्रुप की सभी फैक्ट्रियों पर छापा

Ajay Soni

जालौन पुलिस के सर्विलांस टीम ने बरामद किये 20 गुमशुदा मोबाईल

Ajay Soni

जालौन में धनगर समाज के अनुसूचित जाति प्रमाण पत्र न बनने को लेकर किया विशाल धरना प्रदर्शन।

Ajay Soni

अपना कमेंट दें

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.