प्रचार
  • पूरे उत्तर प्रदेश में शुभ अवसरों पर विज्ञापन एवं बधाई सन्देश देने के लिए सम्पर्क करे-9415596496 -9935930825 -पूरे बुन्देलखण्ड शुभ अवसरों पर विज्ञापन एवं बधाई सन्देश देने के लिए सम्पर्क करे-अशफाक अहमद बुन्देलखण्ड व्यूरो-मो-9838580073 -जनपद जालौन में शुभ अवसरों पर विज्ञापन एवं बधाई सन्देश देने के लिए सम्पर्क करे-रंजीत सिंह-मो-8423229874,श्यामजी सोनी मो-9839155683,अमित कुमार मो-7526086812,जनपद झाँसी में शुभ अवसरों पर विज्ञापन एवं बधाई सन्देश देने के लिए सम्पर्क करे-अरुण वर्मा मो-9455650524-जनपद आजमगढ़ में शुभ अवसरों पर विज्ञापन एवं बधाई सन्देश देने के लिए सम्पर्क करे-रामानुजाचार्य त्रिपाठी मो-9452171219-जनपद कानपुर देहात में शुभ अवसरों पर विज्ञापन एवं बधाई सन्देश देने के लिए सम्पर्क करे-मनोज कुमार सिंह मो-9616891028-
जालौन

जालौन-विश्व मानवाधिकार परिषद के राष्ट्रीय अध्यक्ष यूथ ने पत्रकारों के लिए सुरक्षा किट और बीमा की मांग की।

उरई(जालौन)-विश्व मानवाधिकार परिषद के राष्ट्रीय अध्यक्ष यूथ डॉ प्रियंक शर्मा जी ने ट्वीट के माध्यम से पत्रकारों को भी कोरोना योद्धा मानते हुए बीमा और सुरक्षा किट की मांग की डॉ प्रियंक शर्मा जी ने कहा कि जो हमारे पत्रकार भाई इस संकटकालीन घड़ी में अपनी चिंता न करते हुए समाज के लिए दिन रात एक करते हुए देश विदेश, शहर की खबरे जनता तक पहुचाने का कार्य कर रहे है।उनकी कोरोना से सुरक्षा के लिए न ही कोई राहत कोष बनाया,न कोई बीमा,न उन्हें सुरक्षा किट उपलब्ध कराई गयी।पत्रकार भाइयो के भी ।परिवार है यदि कुछ हो जाय तो कौन परिवार का पालन पोषण कैसे होगा।


अभी हाल ही में आगरा में पत्रकारों को कोरोना हो गया जिसमें एक कि मृत्यु हो गयी इन लोगो के लिए सरकार कुछ नही सोच रही।यदि हमारे पत्रकार भाई इस संकट की घडी में घरों में बैठ गए तो खबरे,कोरोना अपडेट कुछ भी लोगो के बीच नही पहुचेगा।
इसलिए आपसे निवेदन है कि पत्रकारों के लिए सुरक्षा किट, बीमा उपलब्ध कराए जाये ।

रिपोर्ट-अमित कुमार जनपद जालौन।

Content Protection by DMCA.com

ये भी पढ़ें :

जालौन-साइबर क्राइम टीम ने ऑनलाइन धोकाधड़ी के मामले में पीड़ितों के वापस दिलाये रुपये।

Ajay Soni

भारत विकास परिषद उरई मुख्य शाखा एवं मैथिली शरण शाखा के लोगों ने करवाया खाना वितरण

ranjeet singh

कोरोना को मज़ाक मत बनाओ गम्भीरता से लो।-अलीम

Amit Kumar

अपना कमेंट दें

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.