जालौन में पिछले 8 दिन से उत्तर प्रदेश राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन संविदा कर्मचारियों की हड़ताल व कार्य बहिष्कार से चरमरायी स्वस्थ सेवाएं।

 

 उरई (जालौन)।जिला मुख्यालय उरई के मुख्य चिकित्सा अधिकारी कार्यालय प्रांगण में प्रान्तीय नेतृत्व के आवाहन पर उत्तर प्रदेश राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन संविदा कर्मचारी संघ जनपद जालौन द्वारा अपनी मांगों को लेकर चल रहे धरने के आज 8वें दिन है।अनिश्चितकालीन हड़ताल व कार्य बहिष्कार आज 8 वें दिन भी जारी रहा।
वही संविदा कर्मियों का कहना है कि अगर सरकार द्वारा जल्द से जल्द माँगे नही मानी जाती तो हम भारी संख्या में लखनऊ में जाकर धरना प्रदर्शन करेंगे और इसका जिम्मेदार स्वंय शासन/प्रशासन होगा।वही संविदाकर्मियों ने आज शपथ ली कि ‘अपने अधिकार के लिए आखिरी दम तक लड़ेंगे’ इन संविदा कर्मियों की प्रमुख माँगे है।संविदा कर्मियों का स्थायी समायोजन एवं नवीन पद का सृजन किया जाना चाहिए।आशाओं का न्यूनतम 10 हजार रुपये मासिक मानदेय निर्धारित किया जाना चाहिए।आउटसोर्सिंग ठेका प्रथा पर रोक थाम होनी चाहिए।सामान कार्य के लिए समान वेतन एवं विशिष्ट सेवा निधि लागू की जानी चाहिए।
उत्तर प्रदेश राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन संविदा कर्मचारी संघ द्वारा चल रहे कार्य बहिष्कार से आम जनता को काफी परेशानी का सामना करना पड़ रहा हैं।
खास बात तो यह कि उत्तर प्रदेश राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन संविदा कर्मचारी संघ अपनी मांगों को लेकर कार्य बहिष्कार व हड़ताल पर बैठे है।पर इस कार्य वहिष्कार से आम जनता को कभी परेशानी का सामना करना पड़ रहा है।
और लोग स्वस्थ सेवा पाने के लिए परेशान हो रहे है।
हड़ताल में मुख्य रूप से-हेमन्त कुमार(जिलाध्यक्ष),अश्वनी पांडेय(महामंत्री), डॉ अखण्ड सिंह(संरक्षक),डॉ अजय शर्मा(वरिष्ठ उपाध्यक्ष),रचना दुवे(महिला उपाध्यक्ष),अनुराग सिंह(उपाध्यक्ष),पंकज कश्यप(संगठन मंत्री),डॉ विनोद कुमार(कोषाध्यक्ष),अखिलेश सिंह(प्रवक्ता),डॉ नेहा,संदीप, आमिर,सुनील,शिवकुमार,आदि मौजूद रहे।

रिपोर्ट-अमित कुमार क्राइम रिपोर्टर उरई जनपद जालौन

Related Posts

News Reporter Details

Add Comment

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.