प्रचार
  • पूरे उत्तर प्रदेश में शुभ अवसरों पर विज्ञापन एवं बधाई सन्देश देने के लिए सम्पर्क करे-9415596496 -9935930825 -पूरे बुन्देलखण्ड शुभ अवसरों पर विज्ञापन एवं बधाई सन्देश देने के लिए सम्पर्क करे-अशफाक अहमद बुन्देलखण्ड व्यूरो-मो-9838580073 -जनपद जालौन में शुभ अवसरों पर विज्ञापन एवं बधाई सन्देश देने के लिए सम्पर्क करे-रंजीत सिंह-मो-8423229874,श्यामजी सोनी मो-9839155683,अमित कुमार मो-7526086812,जनपद झाँसी में शुभ अवसरों पर विज्ञापन एवं बधाई सन्देश देने के लिए सम्पर्क करे-अरुण वर्मा मो-9455650524-जनपद आजमगढ़ में शुभ अवसरों पर विज्ञापन एवं बधाई सन्देश देने के लिए सम्पर्क करे-रामानुजाचार्य त्रिपाठी मो-9452171219-जनपद कानपुर देहात में शुभ अवसरों पर विज्ञापन एवं बधाई सन्देश देने के लिए सम्पर्क करे-मनोज कुमार सिंह मो-9616891028-
उत्तर प्रदेश वीडियोस

कानपूर देहात-छेड़छाड़ करने वाले का नाम शरीर पर लिखकर कर छात्रा ने की सुसाइड

कानपुर देहात में अपराध का ग्राफ बढ़ गया है अपराधी खुलेआम सीना ताने घूम रहे है कानपुर देहात में कानून व्यवस्था ध्वस्त हो गयी है पुलिस अधीक्षक की अगुवाई में जिले की पुलिस नाकाम साबित हो रही है यहाँ के लोग अब कानून को अपने हाथ में लेने को मजबूर हो रहे है । यहाँ लोगो को अब कानून से विश्वास उठ चुका है लेकिन जिले के मुखिया अपराध रोकने में विफल साबित हो रहे है जिले की कानून व्यवस्था का फायदा उठाकर अपराधी मौज कर रहे है ……..इसके चलते आज फिर कानपूर देहात में एक ऐसी वारदात सामने आयी है जिसने सूबे में महिलाओं छात्राओ को महफूज़ करने का दावा करने वाली तमाम महिला हेल्पलाइन की असल तस्वीर सामने रख दी है दरअसल शोहदों के आतंक से तंग आकर एक छात्रा ने फांसी लगा कर मौत को गले लगा लिया इतना ही नही उस बेबस छात्रा ने फांसी लगाने से पहले अपने पूरे शरीर पर शोहदों के आतंक की धमकी लिखी ओर उन शोहदों को फांसी देने की मांग लिख कर फांसी के फंदे पर झूल गयी

कानपूर देहात के सिकंदरा इलाके के रसधान गांव में एक छात्रा शोहदों की छेड़छाड़ से इस कदर परेशान थी की उसने अपने शरीर पर छेड़छाड़ और शोहदों द्वारा दी गई धमकी और उनके नाम लिखकर सुसाइड कर लिया

जी हां ये सच्चाई है ये हकीकत है जो कानपुर देहात से चीख चीख कर एक बेबस छात्रा की मौत की दास्तान बयान कर रही है दरअसल सिकंदरा थाना क्षेत्र के चितवाखेड़ा में रहने वाले अमर सिंह की बेटी नेहा ग्रेजुएशन कर रही थी लेकिन गांव के ही दबंग संजू ओर उसके दोस्त लगातार नेहा को परेशान करते थे उस पर छींटाकशी करते थे अश्लील फब्तियां कसते थे नेहा का कालेज आना जाना दुश्वार हो गया था शनिवार को कालेज जाते समय नेहा को संजू ने अपने साथी के साथ उसे घेर लिया और उसकी अस्मत लूटनी चाही जैसे तैसे नेहा अपनी जान और अस्मत बचा कर घर पहुची लेकिन वह शोहदों की छेड़छाड़ से इतना परेशान हो गई की सन्डे की शाम को उसने अपने शरीर पर पेन से अपने साथ हुई छेड़छाड़ की दास्तान लिखी और सुसाइड कर लिया नेहा ने अपने बदन पर लिखा कि मैं मरने जा रही हूं और मेरी मौत के ज़िम्मेदार संजय उर्फ़ संजू , सोनू और रूबी है मेरी मौत के बाद इनको छोड़ा ना जाये इन्हें फांसी दी जाए इन्होने मुझे धमकी दी थी। इसके बाद नेहा फांसी पर झूल कर हमेशा के लिए मौत की नींद सो गयी

छात्रा के भाई का आरोप है कि शोहदों ने धमकी दी थी की अगर घर में किसी को बताया तो भाई को गोली मार देंगे
मेरी बहन को संजय और उसके दोस्त कई दिनों से छेड़ रहे थे वह ग्रेजुएशन के पेपर देने गई थी रास्ते में उसको संजय नेअपने साथी के साथ छेड़ा उसके कपडे फाड़े उसने घर में कुछ नहीं बताया वह परेशां हो गई इसलिए सुसाइड कर लिया उसने पाने पैरो हाथो और छाती पर सुसाइडनॉट लिखा है उसने घर में कुछ नहीं बताया शोहदों ने धमकी दी थी की अगर घर में किसी को बताया तो भाई को गोली मार देंगे
बाइट — अमित कुशवाहा (लड़की का भाई)

वही लड़की की माँ के मुताबिक मुझे कुछ नहीं पता था उसकी बाड़ी पर लिखा देखा तो सब समझ में आया । उसने सोनू रवि और रूबी का नाम लिखकर कहा इनको फ़ासी फ़ासी दिलवा देना ……..

नेहा और उसकी मौत का जिम्मेवार सोनू रसधन गांव के ही रहने वाले है नेहा ने अपने साथ हुई छेड़छाड़ की शिकायत संजय की भाभी रूबी से की थी लेकिन इसके बाद भी संजय ने अपनी छेड़छाड़ बंद नहीं की इसीलिए नेहा ने अपनी मौत के लिए संजू और सोनू के साथ संजय उर्फ़ संजू की भाभी रूबी का भी नाम लिखा है बहराल पुलिस नेहा की बाड़ी का पोस्टमार्टम करा रही है एडिशनल एसपी का कहना है पुलिस ने सुसाइड नोट के आधार पर तीनो आरोपिओ के खिलाफ एफआईआर दर्ज करके दो आरोपिओ संजू और सोनू को गिरफ्तार कर लिया है

बाइट — सोमवती (छात्रा की माँ)
भले ही यूपी में योगी सरकार हर तरफ महिलाओं की सुरक्षा का दावा करती घूम रही हो कि प्रदेश में महिलाओ और छात्राओं की सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम है लेकिन नेहा जैसी लड़किया अपने सुसाइड से संदेस दे रही है की शोहदों के आतंक पर पुलिस का कोई लगाम नहीं है अन्यथा एक छात्रा को अपने सुसाइड नोट को शरीर में लिखकर सुसाइड न करना पड़ता
लेकिन बड़ा सवाल जब जिले का मुखिया ही सुस्त होगा तो कानून व्यवस्था मजबूत कैसे होगी अपराध बढ़ना लाजमी है

वही पर जब मीडिया की टीम ने जिले के पुलिस अधीक्षक रतनकांत पाण्डेय से बात करनी चाही तो एसपी ने बात करने से साफ मना कर दिया और जिले के सभी क्षेत्राधिकारियों (C O) को भी मीडिया टीम को वाईट न देने का तालिबान फरमान दे दिया …….

 बाइट- रतनकान्त पाण्डेय – ( S P कानपुर देहात )

 

Content Protection by DMCA.com

ये भी पढ़ें :

बुंदेलखंड विश्वविद्यालय में 21 व दिशांत समारोह

siteadmin

आईटी विभाग के जिला प्रमुख बने मंगलेश,कार्यकर्ताओं में खुशी कि लहर

Ajay Soni

Kanpur Dehat:टाटा का नकली कूलैंड पकड़ा

Ajay Soni

अपना कमेंट दें

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.