कानपुर देहात-अंग्रेजी हुकूमत के समय बनाया गया पुल हुआ जर्जर

कानपुर देहात के झींझक में अंग्रेजी हुकूमत के समय बनाया गया पुल अब जर्जर हो चुका है झींझक का ये नहर पुल रसूलाबाद कन्नौज को जोड़ता है इसी जर्जर पुल के ऊपर से दिनरात भारी वाहन गुजर रहे है लेकिन यहाँ का जिला प्रशासन यह सब देखते हुए भी अनजान बना हुआ है अधिकारी और नेता भी इसी पुल के ऊपर से गुजरते है जबकि ये पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव की पत्नी डिम्पल यादव का संसदीय क्षेत्र भी है इसी झींझक क्षेत्र में ही हमारे देश के राष्ट्रपति का घर भी है बावजूद इसके किसी नेता या अधिकारी की नजर इस जर्जर पुल पर क्यों नही पड़ रही है यहाँ के नेता और अधिकारी शायद किसी बड़ी अनहोनी होने का इंतजार कर रहे है

कानपुर देहात के झींझक नहर में रसूलाबाद कन्नौज को जोड़ने के लिये अंग्रेजी हुकूमत ने सन 1855 में नहर पर पुल का निर्माण किया था और इस पुल की मियाद 100 वर्ष निर्धारित की गयी थी और पुल के मियाद की एक नेम पट्टिका भी वहाँ लगा दी गयी थी जो आज भी लगी है ये दूर से दर्शाती है

इस पुल के बनने से लोगो का सीधे झींझक से कन्नौज का आवागमन होने लग गया था लेकिन अब ये नहरपुल 180 वर्ष पुराना हो चुका है या हम ये कहे की अपनी मियाद से 80 वर्ष अधिक हो चुके है
अब इस नहरपुल की मियाद कई वर्षों पहले खत्म हो चुकी है ये अब पूरी तरह से जर्जर हो चुका है पुल की दीवारों पर बड़ी बड़ी दरारें हो गयी है पुल के ऊपर से दिनभर भारी वाहन भी गुजरते रहते है अधिकारियो और नेताओं का आना जाना भी लगा रहता है जबकि ये क्षेत्र भी वीवीआईपी क्षेत्र है यहाँ से पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव की पत्नी डिम्पल यादव सांसद है और सबसे महत्वपूर्ण बात तो ये है कि इसी झींझक क्षेत्र के ही रहने वाले हमारे देश के राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद का घर भी इसी क्षेत्र के परौंख में है लेकिन अब तक किसी नेता अधिकारी ने ध्यान नही दिया है आज इस पुल की मियाद खत्म हुए 80 वर्ष हो चुके है पुल जर्जर हो गया है लेकिन लोग अपनी जान जोखिम में डालकर आना जाना कर रहे है भारी वाहनों को गुजार रहे लोग मौत को दावत दे रहे है ………

यहाँ के ग्रामीणों की माने तो पुल को बने लगभग 180 साल हो गए है इसकी मियाद 100 वर्ष की थी लेकिन 80 साल अधिक हो गए है नहरपुल पूरी तरह से जर्जर हो चूका है वीआईपी अधिकारी और नेता भी इसी पुल से गुजरते है लेकिन अधिकारी और नेता जानकर भी अनजान बने हुए है शायद किसी बड़ी अनहोनी होने का इंतजार कर रहे है झींझक का नहरपुल भी बहुत सकरा है सकरा होने की वजह से यहाँ दिनभर जाम की स्थित बनी रहती है कई बार नहर विभाग के अधिकारियो और जिला प्रशासन से शिकायत भी की जा चुकी है लेकिन कोई ध्यान नही देता
बाइट – विनोद मिश्रा ग्रामीण
बाइट – रजोल कुमार ग्रामीण
वहीं भाजपा सांसद और सूबे के पूर्व मंत्री देवेन्द्र सिंह भोले ने सरकार का बचाव करते हुए नहर पुल का निरीक्षण कराने और शीघ्र नया निर्माण कराने की बात कही……..
बाइट – देवेन्द्र सिंह भोले सांसद अकबरपुर

Related Posts

News Reporter Details

Add Comment

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.